जानना जरूरी है आपके प्रधानमंत्री कैसे रहते हैं इतने फिट और एनर्जेटिक

WD

सोमवार, 20 जनवरी 2020 (11:50 IST)
देश-विदेश की लगातार यात्राएं। रैली और सभाएं। न कोई अवकाश और न कोई बीमारी। एनर्जी लेवल किसी युवा की तरह। फिटनेस को लेकर इतने सक्रिय कि उन्‍होंने पूरे देश को फिट करने के लिए फिट इंडिया मूवमेंट की शुरुआत कर दी।

बात हो रही है हमारे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हेल्‍थ और फिटनेस की। हम फिटनेस के लिए अक्‍सर बॉलीवुड कलाकारों को फॉलो करते हैं, लेकिन फिट रहने की प्रेरणा प्रधानमंत्री मोदी से भी ली जा सकती है। आइये जानते हैं उनकी फिटनेस और डाइट के बारे में।

प्रधानमंत्री मोदी ने बचपन में खूब तैराकी की है। साथ ही उन्‍होंने आरएसएस यानी संघ की शाखा में सूर्य नमस्‍कार किया। तब से लेकर अब तक उनकी एक्‍सरसाइज में सूर्य नमस्‍कार जारी है।

वॉक एंड वॉर्म-अप
मोदी के दिन की शुरुआत सुबह 5 बजे होती है। इसके बाद हल्‍की फूल्‍की एक्‍सरसाइज और वॉक उनकी रोज के  अभ्‍यास में शामिल है। करीब 15 से 20 मिनट तक वॉक करते हैं और इतनी ही देर तक वॉर्मअप करते हैं। इसमें योग और प्राणायाम भी आदि शामिल है।

ब्रिदिंग एक्‍सरसाइज
प्रधानमंत्री मोदी के बारे में कहा जाता है कि वे अपने ब्रिदिंग सिस्‍टम का भी ख्‍याल रखते हैं। काम के दौरान वे नियमित रूप से लंबी और गहरी सांस लेने का अभ्‍यास करते रहते हैं, जिससे उन्‍हें भरपूर ऑक्‍सीजन मिलता रहे।


नींद
मोदी चाहे किसी विदेशी यात्रा से लौटे हों या देर रात तक काम किया हो। वे सिर्फ चार से पांच घंटे की ही नींद लेते हैं। किसी भी स्‍थिति में वे सुबह 5 बजे के पहले जाग जाते हैं, इससे उन्‍हें ताजगी मिलती है और दिनभर एनर्जी बनी रहती है।

ऐसे बचते हैं सर्दी-जुकाम से
प्रधानमंत्री मोदी सर्दी-जुकाम और बुखार होने पर दवाइयों से अमुमन दूर ही रहते हैं। जुकाम होने पर वे सरसो का हल्‍का गर्म तेल नाक में डालते हैं। दिनभर गुनगुने पानी का सेवन करते हैं।

नाश्‍ता   
प्रधानमंत्री नाश्‍ते में हल्‍का गुजराती स्‍नैक्‍स लेते हैं। पोहा भी उनके नाश्‍ते का हिस्‍सा है। इसके अलावा खिचडी, कढी, उपमा, खाकरा भी नाश्‍ते में होता है। नाश्‍ते के बाद वे अदरक वाली चाय जरूर पीते हैं। इसी नाश्ते की वजह से वे दोपहर तक ऊर्जावान रहते हैं।

लंच
लंच में प्रधानमंत्री मोदी बिना मसाले वाला सादा और बेहद संतुलित भोजन लेते हैं। प्रधानमंत्री के दोपहर के खाने में चावल, दाल, सब्जी और दही शामिल रहती है। गेहूं की रोटी के बजाए वे गुजराती भाकरी वे प्रिफर करते हैं। इसके अलावा दोपहर में संसद की कैंटीन की सिर्फ फ्रूट सलाद लेते हैं।

डिनर
डिनर में भी हल्का खाना खाते हैं। गुजराती खिचड़ी के अलावा भाकरी, दाल व बिना मसाले वाली सब्जी जैसे व्यंजन मोदी के रात के खाने में शामिल रहते हैं।

फास्‍ट
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का मानना है कि उपवास रखने से शरीर स्वस्थ रहता है। मोदी नवरात्र में पूरे नौ दिन का उपवास रखते हैं। उपवास के दौरान वे सिर्फ नींबू पानी पीते हैं।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख राशिफल : 7 दिन और आपके सितारे, जानें क्या कहते हैं...