Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

युवाओं को क्यों हो रहे हैं हार्ट अटैक, क्या हैं 3 बड़े कारण

हमें फॉलो करें webdunia
Three causes of heart attack in youth : आजकल क्यों युवाओं में हार्ट अटैक के मामले बढ़ रहे हैं। फीट लोगों को भी हार्ट अटैक होने की घटना को देखा जा रहा है। 20- 30 से 40 साल की उम्र के फीट युुवाओं को भी हार्ट अटैक होने लगा है। आखिर क्या कारण है युवाओं को हो रहे हार्ट अटैक का? जानते हैं 5 बड़े कारण।
 
अब तक यह माना जाता रहा है कि स्ट्रेस, अनियमित लाइफ स्टाइल, न्यूक्लियर फैमिली, स्मोकिंग और अल्कोहल आदि कई बातें हार्ट अटैक के कारणों को जन्म दे रहा है, लेकिन बहुत से ऐसे लोग हैं जिनके जीवन में तनाव नहीं है। संयुक्त परिवार में रहते हैं, स्मोकिंग और अल्कोहल का सेवन भी नहीं करते हैं और जिम जाते हैं तब भी वे हार्ट डिजीज का शिकार हो रहे हैं। आओ जानते हैं इसके तीन महत्वपूर्ण कारण।
 
1. सॉल्ट : WHO ने कहा कि नमक 5 ग्राम से ज्यादा नहीं खाना चाहिए। यदि ऐसा होता है तो 25 लाख लोगों की जान बच सकती है। इसका मतलब यह है कि आज का युवा फास्ट फूड और बाहरी खाने के चलते ओवर सॉल्ट ग्रहण कर रहा है। ओवर सॉल्ट ब्लड प्रेशर की बीमारी के साथ ही हार्ट की बीमारी भी साथ लेकर आता है। एक रिसर्च के अनुसार भारतीय लोग 11 ग्राम से ज्यादा नमक का उपयोग कर रहे हैं।
 
2. सैचुरेटेड फैट : आप दिनभर में जितना भी फैट लेते हैं उसका सिर्फ 5 प्रतिशत सैचुरेटेड फैट ले सकते हैं। यदि सैचुरेटेड फैट ज्यादा लेते हैं तो यह मोटापे को जन्म देगा और साथ ही सैचुरेटेड फैट्स युक्त फूड्स के नियमित सेवन से आपके शरीर में कोलेस्ट्रॉल की मात्रा हाई हो जाएगी। ये फैट आर्टरीज वॉल पर धीरे-धीरे जमा होने लगते हैं और ब्लॉकेज के कारण दिल तक ब्लड सर्कुलेशन बाधित होने लगता है। इसके कारण दिल अपना कार्य सही से नहीं कर पाता है, जिसके चलते हार्ट अटैक, स्ट्रोक, कार्डियक अरेस्ट आने का जोखिम बढ़ जाता है। जो भी आप एनिमल प्रोडक्ट खाते हैं उनमें सैचुरेटेड फैट होता है। इसी के साथ घी और तेल में भी सैचुरेटेड फैट अच्छी मात्रा में होता है। इसका मतलब यह कि आपको सैचुरेटेड फैट कम करने होंगे और अनसैचुरेटेड फैट बढ़ाने होंगे।
webdunia
3. शुगर : रिसर्च कहती है कि एक एडल्ट व्यक्ति को 30 ग्राम से ज्यादा शुगर नहीं लेना चाहिए। मतलब 24 घंटे में अधिकतम 6 चम्मच शुगर ले सकते हैं। ज्यादा शुगर डायबिटीज का खतरा बढ़ा देगी साथ ही यह हार्ट के लिए भी खतरनाक है। शुगर बहुत सारे कॉम्प्लिकेशंस पैदा करती है जिससे गैस और अपच का खतरा भी बढ़ जाता है। एक स्टडी में यह खुलासा हुआ है कि अधिकतर लोगों की दिनभर की टोटल कैलोरी में से 25 प्रतिशत कैलोरी यदि शुगर के चलते आ रही है तो हार्ट के लिए यह सबसे खतरनाक है। यह इस खतरे को दोगुना बढ़ा देगी। 
 
उपरोक्त तीनों ही चीजें जंक या ऑयली फूड, मीट, मछली, दूध, घी, तेल, मिठाई, चॉकलेट, बाहरी भोजन आदि में भरपूर मात्रा में रहती है। आजकल का युवा स्ट्रीट फूड खूब खाता है। त्योहारों के अलावा भी मीठी चीजों का सेवन बढ़ गया है। फूड डिलीवरी कंपनी से हर तीसरे तीन फूड मंगवाया जा रहा है। स्मोकिंग और अल्कोहल के साथ ही खाने वाली तंबाकू का नशा भी बढ़ गया है। ऑफिस में ओवर टाइम और ओवर इटिंग भी बढ़ गई है। इसीलिए युवाओं को भी अब हार्ट अटैक आने लगा है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ब्राउन राइस खाने के फायदे और नुकसान