मजेदार जोक : हे..प्रभु, मुझे 10000 रुपए भेज दो

एक गरीब आदमी प्रतिदिन कागज़ में लिखता। हे..प्रभु, मुझे ₹10000/-भेज दो। औऱ गुब्बारे में लिखकर उडा देता। वो गुब्बारा, पुलिस थाने के ऊपर से गुजरता और पुलिस कर्मी उस गुब्बारे को पकड़ कर वो पर्ची पढते और उस आदमी के भोलेपन पर हंसते। 
 
एक दिन पुलिस कर्मियों ने सोचा कि क्यों ना उस गरीब आदमी की मदद की जाए और पुलिस कर्मियों ने मिलकर ₹5000/जमा किए और उस व्यक्ति को उसके घर जाकर दे आए।
 
दूसरे दिन, पुलिस कर्मियों ने जब गुब्बारा रोक कर पर्ची पढ़ी तो होश उड़ गए उसमें लिखा था...!
 
प्रभु.. आपके द्वारा भेजे गए पैसे तो मिल गए। लेकिन आपको पुलिस वालो के हाथ नहीं भेजने चाहिए थे। साले 5000/- खा गए। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख नवाजुद्दीन सिद्दीकी : खाना बनाने का काम भी किया, लेकिन उम्मीद का साथ नहीं छोड़ा