Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Holi 2021 : घर पर बनाएं हर्बल कलर, 15 आसान तरीकों से

हमें फॉलो करें webdunia
होली पर ऑर्गेनिक कलर घर पर बनाएं
 
बाजारों में होली की धूम शुरू हो गई है। हालांकि कोरोना के कारण अलग-अलग ग्रुप बनाकर होली का त्‍योहार मना रहे हैं। लेकिन बदलते वक्‍त में हर्बल रंग की डिमांड अधिक बढ़ गई है। अधिकतर युवा वर्ग अपनी त्‍वचा को लेकर ज्‍यादा चिंतित रहते हैं, ऐसे में हर्बल कलर पहली पसंद बन रही है। आपको बता दें कि हर्बल कलर आप कई आसान तरीकों से घर पर भी बना सकते हैं और मजा ले सकते हैं | तो चलिए जानते हैं घर पर हर्बल कलर /  नैचरल कलर / ऑर्गेनिक कलर बनाने की आसान विधि -
 
1. जासवंती के फूलों से आप कलर बना सकते हैं। फूलों को सूखाकर उसका पावडर बना लें और उसकी मात्रा बढ़ाने के लिए आटा मिक्‍स कर लीजिए।  सिंदूरिया के बीज लाल रंग के होते हैं, इनसे आप सूखा व गीला लाल रंग बना सकते हैं। 
 
2. लाल रंग बनाने के लिए सूखे लाल चंदन को आप गुलाल की तरह इस्‍तेमाल कर सकते हैं। यह सुर्ख लाल रंग का पावडर होता है, इससे त्‍वचा संबंधी  कोई बीमारी नहीं होती है। 
 
3.लाल रंग को बनाने का एक और दूसरा तरीका भी है। दो छोटे चम्मच लाल चन्दन पावडर को पांच लीटर पानी में डालकर उबालें। इसमें बीस लीटर पानी और डालें। अनार के छिलकों को पानी में उबालकर भी लाल रंग बनाया जा सकता है।
 
4. बुरांश के फूलों की सहायता से भी लाल रंग बनाया जा सकता है। पहाड़ी क्षेत्रों में पाए जाने वाले इन फूलों को रातभर पानी में भिगो कर रख दें। सुबह तक आपका लाल रंग तैयार हो जाएगा।  
 
5. तटीय क्षेत्रों में पलिता, मदार और पांग्री के फूल पाए जाते हैं। इन फूलों को रातभर पानी में भिगो कर रख दें, सुबह तक आपका लाल रंग तैयार हो जाएगा। 
 
6. मेहंदी को आपने अब तक गीली करके हाथों पर लगाया है। इसके सूखे पावडर को आप हरे रंग की तरह इस्‍तेमाल भी कर सकते हैं। बेहतर होगा इस रंग को गीला नहीं करें..अन्‍यथा आपकी ड्रेस या अन्‍य जगह पर मेहंदी का कलर चढ़ जाएगा। 
 
7.हरा रंग बनाने के लिए गुलमोहर की पत्तियों को सुखाकर, महीन पावडर कर बना लें। आपका हरा रंग तैयार है।  
 
8. चुकंदर से नेचरल गहरा पिंक कलर बनाया जा सकता है। चुकंदर को किस लें और एक लीटर पानी में भिगों कर रख दें। सुबह तक आपका पिंक कलर तैयार हो जाएगा। 
 
9. टेसू के फूलों की मदद से आप सुंदर-सा नारंगी रंग तैयार कर सकते हैं। टेसू के फूलों को रातभर पानी में भिगोकर रख दें, सुबह तक आपका नारंगी रंग तैयार हो जाएगा। कहते हैं कि कान्‍हा जी भी टेसू के फलों से ही होली खेलते थे। 
 
10. हरसिंगार के फूलों से आप सुंदर सा नारंगी कलर बना सकते हैं। इसे भी आप को पानी में कुछ घंटों के लिए भिगोकर रखना होगा। 
 
11. नारंगी रंग बनाने के लिए आप चंदन के पावडर का इस्‍तेमाल कर सकते हैं। एक चुटकी चंदन के पावडर में एक लीटर पानी मिला दें। 
 
12.अमलतास, गेंदा और पीले सेवंती के फूलों से भी नैचरल पीला रंग तैयार किया जा सकता है। फूलों की पत्तियों को सूखा कर उन्‍हें बारीक पीस लें।  
 
13. एक चम्‍मच हल्‍दी को दो लीटर पानी में मिला लें, रंग गाढ़ा करने के लिए आप इसे उबाल भी सकते हैं। वहीं गेंदे के फूलों से ताजा पीला रंग तैयार किया जा सकता है। करीब 50 गेंदे के फूलों को 2 लीटर पानी में उबालकर रातभर भीगने दें। सुबह तक आपका कलर तैयार हो जाएगा। 
 
14. जकरंदा के फूलों की पंखुडियों से आप नीला रंग तैयार कर सकते हैं। फूलों को सुखाकर बारीक पीस लें। यह फूल वैसे तो केरल में मिलता है लेकिन ऑनलाइन भी आपको मिल जाएगा। 
 
15. जामुन को अभी तक खाया था, लेकिन उससे आप होली भी सकते हैं। जामुन को बारीक पीस लें और पानी मिला लें। 
इस बार कब होगा होलिका दहन, ध्रुव योग में मनेगा रंगों का त्योहार

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

प्री और पोस्‍ट होली ऐसे बचाएं अपनी आंखों और त्‍वचा को रंगों के इंफेक्‍शन से