Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

sawan में बिना लहसुन प्याज के पंजाबी छोले, 15 मिनट में करें तैयार, जानें रेसिपी

हमें फॉलो करें webdunia
Chole Recipe
 

इन दिनों श्रावण मास चल रहा है, ऐसे में कई घरों में पूरे महीने भर पूजा और व्रत रख कर भगवान भोलेनाथ की आराधना की जाती है। व्रत के दिनों में कई घरों में प्याज और लहसुन का उपयोग खाने में नहीं किया जाता है।

ऐसे समय में यह समस्या सामने आती हैं कि खाना और अधिक टेस्टी कैसे बनाया जाएं, तो आइए हम आपके लिए लेकर आए हैं बिना लहसुन-प्याज के पंजाबी छोले (punjabi chole) बनाने की आसान विधि। जो कम समय में तो बनेगी ही, साथ ही खाने में भी होगी लाजवाब...

- राजश्री कासलीवाल
 
छोला सामग्री :
 
200 ग्राम काबुली चने, मीठा सोडा, 3 टमाटर (बारीक कटे हुए), 4-5 हरी मिर्च, सेंधा नमक स्वादानुसार, 1 बड़ा चम्मच घी और 2 चम्मच तेल, हरा धनिया बारीक कटा हुआ, इमली का गाढ़ा पानी। 
 
छोला मसाला तैयार करने के लिए 3-4 लौंग, 1/2-1/2 चम्मच बड़ी इलायची पाउडर, सोंठ, दालचीनी पाउडर, हल्दी, पिसी लाल मिर्च, काली मिर्च पाउडर, 1 छोटा चम्मच जीरा पाउडर, 1 छोटा चम्मच धनिया पाउडर आदि इन सभी सामग्री को मिला लें तथा 1 चुटकी हींग डाल कर मिक्स कर लें। 
 
विधि : 
 
1. काबुली चने को मीठा सोडा मिलाकर रातभर भिगोकर रखें या कम से कम 8 घंटे तक भिगोएं। 
 
2. बनाने के पूर्व काबुली चने धोकर कुकर में डालें तथा 5-6 सीटी लें या गलने तक पकाएं। 
 
3. जब चने गल जाएं तो उसमें नमक, इमली का गाढ़ा पानी व छोले का आधा मसाला मिलाकर 1 सीटी आने तक पकाएं। 
 
4. अब एक कढ़ाई में 2 बड़े चम्मच तेल और घी गरम करके राई-जीरा, हींग तथा 3 हरी मिर्च लंबी काटकर डालें और तड़का लगाएं। 
 
5. बाकी बची हरी मिर्च को बारीक काट लें तथा छौंक में डालें और टमाटर डाल कर ग्रेवी भूनने तक पकाएं। 
 
6. जब मसाला तेल छोड़ने लगे तब छोले का बचा मसाला डालकर अच्छीतरह भून लें। 
 
7. आवश्यकतानुसार पानी मिलाकर गाढ़ी या पतली ग्रेवी तैयार कर लें और उसमें उबले हुए छोले डाल दें। अब 5-10 मिनट उबलने दें। 
 
8. ऊपर से हरा धनिया बुरकें। लीजिए आपके चटपटे पंजाबी छोले (punjabi chole) तैयार हैं।।
 
9. अब इसे नीबू और कटे प्याज के साथ गरमा-गरम सर्व करें। 
 
नोट : आप इसमें टमाटर की जगह दही भी इस्तेमाल कर सकती हैं।


webdunia

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारत कल, आज और कल : सुदृढ़ शिक्षा, सशक्त युवा