#MeToo पर BJP विधायक उषा ठाकुर का विवादित बयान, सफलता के लिए महिलाएं अपनाती हैं शॉर्टकट

सोमवार, 15 अक्टूबर 2018 (10:58 IST)
यौन शोषण के खिलाफ सोशल मीडिया पर चल रहे #MeToo अभियान में अभिनेता, निर्देशक, पत्रकार, कई बड़ी राजनीतिक हस्तियों, फिल्मस्टार, डायरेक्टर, प्रोड्यूसर, सिंगर, मीडियाकर्मियों, सैलिब्रिटी और कई खास लोगों पर लगे आरोपों ने उन्‍हें मुसीबत में डाल दिया। वहीं दूसरी ओर मध्य प्रदेश के इंदौर से भाजपा विधायक उषा ठाकुर ने इस अभियान को लेकर अपना विवादित बयान दिया है।


#MeToo अभियान के तहत अपने खिलाफ हुई यौन शोषण की घटनाओं पर कई महिलाएं खुलकर बोल रही हैं, वहीं दूसरी तरफ भाजपा की महिला विधायक ने पीड़ित महिलाओं को लेकर विवादित बयान दिया है। विधायक उषा ठाकुर ने कहा, महिलाएं तरक्की के लिए शॉर्टकट अपनाती हैं। निजी स्वार्थों के लिए नैतिक मूल्यों से समझौता करती हैं। इसलिए समस्यायों में फंसती हैं। उन्‍होंने कहा, जीवन मूल्यों से समझौता कर पाई गई सफलता निरर्थक है।

उल्‍लेखनीय है कि मध्य प्रदेश से राज्यसभा सांसद और केंद्रीय विदेश राज्यमंत्री एमजे अकबर पर कई महिला पत्रकारों ने यौन शोषण के आरोप लगाए हैं। इसी सवाल पर उषा ठाकुर ने यह विवादित बयान दिया है। वहीं दूसरी ओर अकबर ने अपने ऊपर लगे सभी आरोपों से इनकार किया है और इसे साजिश करार दिया है।

उन्होंने कहा, मेरे खिलाफ लगाए गए दुर्व्यवहार के आरोप झूठे और मनगढंत हैं। इन झूठे और बेबुनियाद आरोपों से मेरी छवि को अपूरणीय क्षति पहुंची है। मैं इन आरोपों पर जल्द जवाब नहीं दे सका, क्योंकि मैं विदेश की आधिकारिक यात्रा पर था। जबकि विपक्षी पार्टियों ने एमजे अकबर के इस्तीफे और पूरे मामले की जांच की मांग की है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मध्यप्रदेश : मौजूदा 80 विधायकों के टिकट काटेगी भाजपा, अमित शाह ने दी हरी झंडी