Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

टीएमसी में तलवार के बल पर जा रहे हैं लोग : कैलाश विजयवर्गीय

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 2 नवंबर 2021 (17:36 IST)
प्रमुख बिंदु
 
  • कैलाश विजयवर्गीय का टीएमसी पर निशाना
  • टीएमसी में तलवार के बल पर जा रहे हैं लोग
  • विजयवर्गीय ने धनतेरस पर किराना सामान बेचा
इंदौर। धनतेरस के मौके पर भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय ने अपने पारंपरिक कार्य को किया और सालों पुरानी दुकान पर वे एक बार फिर किराना सामान बेचते नजर आए। इस दौरान विजयवर्गीय ने नंदानगर स्थित अपनी पुश्तैनी दुकान पर मीडिया से चर्चा करते हर बार की तरह विजयवर्गी सटीक और सीधे बयान देकर विपक्ष पर निशाना साधा। जहां उन्होंने मंगलवार को यूपी में कांग्रेस और प्रियंका गांधी पर सवाल उठाए तो वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी और टीएमसी पर भी सीधे निशाना साधा।
 
विजयवर्गीय ने सबसे पहले पश्चिम बंगाल के पूर्व राज्यपाल द्वारा दिए गए बयानों को लेकर कहा कि अगर परिवार का कोई बुजुर्ग गाली भी देता है तो उसे आशीर्वाद समझकर स्वीकार लेना चाहिए। इधर उत्तरप्रदेश चुनाव में प्रियंका गांधी के दौरे को लेकर उन्होंने कहा कि जिला कांग्रेस उत्तरप्रदेश में खत्म हो चुकी है। प्रियंका गांधी काफी मेहनत कर रही है और मीडिया भी उन्हें सपोर्ट कर रही है। बावजूद इसके यह साफ है कि यूपी में कांग्रेस नही बची है। यूपी चुनाव के पहले भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव के बयान को अहम इसलिए माना जा रहा है क्योंकि कांग्रेस यूपी में प्रियंका गांधी के भरोसे है।

 
ममता बनर्जी पर हमला बोलते हुए विजयवर्गीय ने कहा कि बंगाल में कानून का राज नहीं है और प्रजातंत्र पर वहां सरकार और सीएम को भरोसा नहीं है। इतना ही नहीं चुनावी रंजिश को आगे बढ़ाते हुए पश्चिम बंगाल की सरकार ने भाजपा सांसद पर हत्या, भ्रष्टाचार सहित कुल 120 अपराध दर्ज कर दिए व मुझ पर भी 20 से ज्यादा केस लगा दिए गए। एक बड़ी बात कहते हुए उन्होंने कहा कि मैं समझता हूं जैसे इस्लाम, तलवार के दम पर देश में आया था उसके बाद पश्चिम बंगाल में ममता सरकार भाजपा नेताओं को तलवार के दम पर टीएमसी में शामिल कराकर तानाशाह के रूप में शासन कर रही है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Ban on fire crackers: इन 6 देशों में पटाखों पर है ‘प्रतिबंध’, आवाज सुनकर धमक पड़ती है पुलिस