Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Unsolved mystery of Death: 10 मौतें जो बनकर रह गईं राज!

webdunia
webdunia

नवीन रांगियाल

14 जून 2020 को अभि‍नेता सुशांत सिंह राजपूत की संदिग्‍ध परिस्‍थि‍ति‍यों में मौत हो गई। करीब 4 महीने बाद भी उनकी मौत रहस्‍य बनी हुई है। हत्‍या, आत्‍महत्‍या, नेपोटि‍ज्‍म और ड्रग्‍स के बीच उनकी मौत का रहस्‍य गहराता जा रहा है। हालांकि सीबीआई और एनसीबी समेत अन्‍य जांच एजेंसियां सुशांत की मौत का रहस्‍य सुलझाने में जुटी हुई हैं, उम्‍मीद है जल्‍द ही सच सामने आएगा।

सुशांत के पहले 6 जून को उनकी पूर्व मैनेजर दिशा सालियान की भी इमारत से गि‍रने से मौत हो गई थी। दोनों मामलों को जोडकरद देखा जा रहा है। सीबीआई दोनों मामलों में छानबीन कर रही है।

आपको बता दें कि सुशांत ही नहीं, भारत में ऐसे मौत के कई मामले हैं जो रहस्‍य बनकर रह गए हैं। कई सालों बाद भी उनका सच सामने नहीं आ सका है। आइए जानते हैं कुछ ऐसी ही अनसुलझी मौतों के बारे में।

होटल के कमरे में ‘सुनंदा पुष्कर’

कांग्रेस नेता और तिरुवनंतपुरम से सांसद शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 को संदिग्ध हालातों में दिल्‍ली की एक होटल लीला के कमरे में मृत पाई गई थी। इससे एक दिन पहले पाकिस्तान की पत्रकार मेहर तरार के साथ ट्विटर पर उनकी लड़ाई हुई थी। 16 जनवरी को उन्होंने जो ट्वीट किए थे, उनसे ऐसा नहीं लग रहा था कि वह किसी तरह के दबाव या तनाव में हैं और खुदकुशी कर सकती हैं।

ऑटोप्‍सी के बाद सुनंदा का अंतिम संस्कार कर दिया गया था। उस समय रिपोर्ट ने संकेत दिया था कि नींद की गोलियों के ओवरडोज के कारण उनकी मौत हुई। हालांकि रिपोर्ट से यह नहीं पता चला की उनकी मौत कैसे हुई और यह आत्महत्या थी या नहीं। वहीं उनकी पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार सुनंदा की मौत जहर से हुई और उनके शरीर के विभिन्न हिस्सों जैसे बांह, हाथ, पैर आदि पर चोट के 12 निशान थे।

सुनंदा कश्मीरी पंडित थीं। पिता सेना में अधिकारी थे। 1990 में उनका परिवार बोमई से जम्मू आकर बसा था, क्योंकि आतंकी हमले के दौरान उनके घर को जला दिया गया था।

आरुषि तलवार और ‘डबल मर्डर’
दि‍ल्‍ली से सटे नोएडा में हुए डबल मर्डर ने पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। एक हाईप्रोफाइल डेंटिस्ट की 14 साल की बेटी आरुषि तलवार और उसका नौकर हेमराज घर में मृत पाए गए थे। इस मामले में आरुषि के माता-पिता को ही सीबीआई अदालत ने दोषी माना था। जिसे पलटते हुए इलाहाबाद हाईकोर्ट ने आरूषि के माता पिता को बरी कर देने का फैसला किया है। डॉक्टर राजेश तलवार और नुपूर तलवार ने भी खुद को निर्दोष बताया था। लेकिन, इस पूरे मामले में कई जांच की कई कड़ियां आपस में जुड़ी नहीं हैं। इसका रहस्‍य अब भी बरकरार है। बॉलीवुड में इस मामले की कहानी पर दो फिल्में आ चुकी हैं।

क्‍या हुआ दिव्या भारती के साथ?
90 के दशक में हर कि‍सी की जुबां पर बालीवुड अभि‍नेत्री दिव्‍या भारती का नाम था। जगह-जगह उनके पोस्‍टर और फोटो दिखाई देते थे। दिव्‍या की लोकप्र‍ियता लगातार बढती जा रही थी। इसी बीच उनकी मौत एक राज बनकर रह गई है। 5 अप्रैल 1993 को रात करीब 11 बजे अपनी बिल्डिंग से नीचे गिर गईं थी। मुंबई के वर्सोवा के तुलसी अपार्टमेंट की पांचवी मंजिल से वे गिरी थीं। आत्महत्या या हत्या को लेकर कारण तक जांच एजेंसियां नहीं खोज पाईं। साल 1998 में मुंबई पुलिस ने मौत को दुर्घटना बताते हुए मामले की जांच को बंद कर दिया।

कैसे हुई जिया खान की मौत?
3 जून को 2013 को जिया खान ने उनके घर पर फांसी के फंदे से लटका पाया गया था। इस हत्या या आत्महत्या के पीछे बॉलीवुड के एक्टर आदित्य पांचोली के बेटे सूरज पांचोली का हाथ बताया जा रहा था। पुलिस ने सूरज पांचोली को गिरफ्तार भी कर लिया था। क्‍यों‍कि मरने से पहले जिया खान ने आखिरी बार सूरज से ही बात की थी। इसके कुछ ही मिनटों बात जिया ने फांसी लगा ली थी। यह अब तक साफ नहीं हो सका है कि जिया की मौत के पीछे सूरज पंचोली का हाथ था या कोई और वजह है। इस रहस्‍यमयीमौत का केस अदालत में चल रहा हैं।

राजीव दीक्षि‍त: साजिश या मौत!
राजीव दीक्षित एक सामाजिक कार्यकर्ता थे। आयुर्वेद और जीवन शैली को लेकर उनकी गहरी जानकारी की वजह से वे काफी लोकप्र‍िय थे। अपने कार्यक्रमों में वे कई तरह की जानकारियां देते थे। आज भी उनके यूट्यूब चैनल देखे जाते हैं। भारत स्वाभिमान आंदोलन के वे राष्ट्रीय सचिव भी थे। 30 नवंबर 2010 को छत्तीसगढ़ में रहस्यमयी परिस्थियों में उनकी मौत हो गई। बात तब और ज्‍यादा गहरा गई जब मौत के बाद उनका पोस्‍टमार्टम तक नहीं करवाया गया और अंतिम संस्‍कार कर दिया गया। यह रहस्‍य अब भी बरकरार है।

निठारी कांड की भयावह दास्‍तां
देश को दहलाकर रख देने वाले निठारी हत्याकांड में एक आरोपी को सजा हो गई है। लेकिन अभी भी कई रहस्यों से पर्दा नहीं उठ सका है। यह पूरा मामला बेहद ही डरावना और खौफनाक है। दिसंबर 2006 में इस कांड का खुलासा हुआ था। सिलसिलेवार तरीके से गायब हुए बच्चों का शव मिले थे। सीबीआई जांच शुरू की गई। इसके बाद इस मामले में सुरेंद्र कोली नाम के व्‍यक्‍त‍ि ने अपना अपराध कबूल किया था। यह भयावह अपराध एक व्‍यापारी मोनिंदर सिंह पंढेर की कोठी में हुआ था।

रिजवान उर रहमान की मौत क्‍यों हुई?
रिजवानूर रहमान एक 30 साल का कंप्यूटर ग्राफिक ट्रेनर था। कहा गया था कि उसने आत्महत्या कर ली थी। लेकिन आशंका जताई गई थी कि उसकी हत्या हुई थी। उसकी मौत के बाद कोलकाता में बहुत बवाल हुआ था। दरअसल, रिजवानूर ने प्रियंका टोडी नाम की लड़की से कोर्ट मैरिज की थी। प्रियंका ‘लक्स कोजी’ के मालिक अशोक टोडी की बेटी थी। पुलिस पर भी दोनों को प्रताड़ित करने का आरोप था। इसके बाद रेलवे लाइन पर उसकी लाश रहस्यमयी परिस्थियों में मिली थी। इस मामले में सीबीआई जांच हुई। आखिर हुआ क्‍या था, यह अब तक किसी को पता नहीं।

पॉन्टी चढ्ढा एंड ब्रदर्स की मौत!
गुरदीप सिंह चढ्ढा उर्फ पॉन्टी चढ्ढा 'वेब' बैनर के तहत कई बिजनेस के मालिक थे। करीब 6 हजार करोड़ का उनका एंपायर था। एक साधारण आदमी से लेकर टायकून तक का सफर तय किया था। उनके धंधों में शराब, सिनेमा से लेकर प्रॉपर्टी तक का कारोबार शामिल था। 17 नवंबर 2012 को उन्हीं के फार्महाउस पर उनके भाई के साथ उनकी लड़ाई हो हुई। पॉन्टी के भाई और वे खुद इस गोलीबारी में मारे गए। बाद में पुलिस ने मौके पर मौजूद सुखदेव सिंह नामधारी को गिरफ्तार किया। लेकिन, पुलिस की थ्योरी में अभी भी कई पेंच है। रहस्य बना हुआ है।

क्‍यों बुझ गया 'चमकीला' पंजाबी गायक?
पंजाबी गायक अमर सिंह चमकीला और उनकी पत्नी अमरजोत को गोली मार दी गई थी। उन्हें गोली किसने और क्यों मारी यह अभी तक रहस्य है। चमकीला एक उभरते हुए सिंगर थे। उनका करियर भी अच्‍छा चल रहा था। उनके संगीत को बहुत सराहा जा रहा था। लेकिन मेहसामपुर से लौटते वक्त उनकी पत्नी और उन्हें अज्ञात बदमाशों ने गोली मार दी। पंजाब में हुई यह हत्या अब तक रहस्य बनी हुई है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

UP : एयरक्राफ्ट क्रैश, पायलट की मौत, 1 लापता