नफरत से भरे पाकिस्तानी युवक ने भारतीय बुजुर्ग महिला से की बदसलूकी, वीडियो वायरल

सोमवार, 16 सितम्बर 2019 (14:08 IST)
कश्मीर को लेकर भारत और पाकिस्तान में तनाव चल रहा है। विदेशों में रहने वाली भारतीय भी पाकिस्तानी लोगों की हरकतों का शिकार हो रहे हैं।
 
ऐसा ही एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है जिसमें पाकिस्तान का एक युवक बुजुर्ग भारतीय महिला से बदतमीजी करता हुआ दिखाई दे रहा है। पाकिस्तानी लड़का उम्रदराज महिला से बर्मिंघम छोड़ने को भी कह रहा है।
 
ब्रिटेन के इस वीडियो को मशहूर ब्रिटिश पत्रकार और विचारक डेविड वेंस ने अपने आधिकारिक ट्‍विटर हैंडल पर शेयर किया है। इससे पहले भी विदेशी जमीन पर कश्मीर मुद्दे पर भारतीय और पाकिस्तानी नागरिकों के बीच तू-तू मैं-मैं की घटनाएं सामने आई थीं।
 
ALSO READ: इमरान के राज में हिन्दुओं पर अत्याचार, प्रिंसिपल पर ईशनिंदा का आरोप, प्रदर्शनकारियों ने की तोड़फोड़
 
पिछले दिनों कुछ पाकिस्तान समर्थकों ने भारतीय उच्चायोग पर पत्थरबाजी और अंडे फेंके थे। इस मामले में दो लोगों को गिरफ्तार भी किया गया था।
 

Check out this intolerance. A Pakistani man in Birmingham, England, abuses an elderly Indian lady by telling her she is not allowed in Birmingham, not allowed in #JammuKashmir and he will personally fight against India. Shocking hate. pic.twitter.com/b2fwJVPZMF

— David Vance (@DVATW) 15 September 2019
वेंस ने इस वीडियो को शेयर करते हुए कैप्शन लिखा है- यह देखिए। इसे असहनशीलता कहते हैं। बर्मिंघम, इंग्लैंड में यह पाकिस्तानी नागरिक है।

वो एक बुजुर्ग भारतीय महिला के साथ बदतमीजी कर रहा है। युवक यह कह रहा है कि यह महिला बर्मिंघम में नहीं रह सकती। वो ये भी कहता है कि वो कश्मीर की लड़ाई व्यक्तिगत रूप से भी लड़ेगा। यह चौंकाने देने वाली नफरत है।
 
इस वीडियो पर कई यूजर्स ने कमेंट किया है। यूजर्स ने पाकिस्तानी युवक की हरकत पर ऐतराज जताया है। ब्रिटिश लोगों ने भी इस वीडियो पर कमेंट किए हैं।

जॉन मर्सियर नाम के एक यूजर ने लिखा है कि आप (पाकिस्तानी युवक) खुद हमारे देश में रह रहे हैं। आपको यह अधिकार किसने दिया कि किसी देश के नागरिक को उसके देश लौटने को। 
 
एक अन्य यूजर ने वीडियो पर कमेंट करते हुए लिखा है- देर किस बात की है। वीडियो बड़ा सबूत है। पुलिस को तुरंत इस युवक को गिरफ्तार करना चाहिए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख खुश हैं गुलाम नबी आजाद, दौरे के बाद सुप्रीम कोर्ट को सौंपेंगे कश्मीर पर रिपोर्ट