Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

एक कार, जो गिरगिट की तरह रंग बदल सकती है!

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

राम यादव

सोमवार, 9 जनवरी 2023 (20:18 IST)
बॉन। भारत की प्रमुख मोटर वाहन प्रदर्शनी 'ऑटो एक्सपो' ग्रेटर नोइडा में जब शुरू हो रही होगी, उस समय तक अमेरिका के लॉस वेगास में एक ऐसी प्रदर्शनी समाप्त हो चुकी होगी जिसमें जर्मनी की बीएमडब्ल्यू कार कंपनी की सबसे नई कार ने धूम मचा दी। कार का नाम है 'बीएमडब्ल्यू आई विजन डी (BMW i Vision Dee)।'
 
लास वेगास की यह प्रदर्शनी वास्तव में उपभोक्ता इलेक्ट्रॉनिक का 'कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक शो (CES)' कहलाने वाला एक अंतरराष्ट्रीय व्यापार मेला है जिसमें दुनिया की प्रमुख इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनियां भी अपनी नवीनतम या भावी कारें दिखती हैं।
 
जर्मनी की बीएमडब्ल्यू ने इस बार अपनी एक ऐसी इलेक्ट्रिक कार दिखाई, जो 2025 में बाजा़र में उतारी जाएगी। वह एक से बढ़कर एक इतनी सारी इलेक्ट्रॉनिक नवीनताओं से भरी है कि इस बार उसी की इस मेले में सबसे अधिक चर्चा रही।
 
कार के रंग को ही ले लें। एक बटन को छूने भर से कार का बाहरी रंग गिरगिट की तरह क्षणभर में बदल जाता है। 32 अलग-अलग रंगों में से कोई भी रंग चुना या अपनी पसंद अथवा मूड के अनुसार इन रंगों को आपस में मिलाया जा सकता है। लगभग किसी भी कल्पनीय रंग का संयोजन हो सकता है।
 
कार की बॉडी पर लगाई गई एक विशेष प्रकार की 'ई-पेपर फिल्म' रंगों के इस जादुई खेल को सुनिश्चित करती है। बॉडी की सतह को 240 'ई-इंक सेगमेंट' में विभाजित किया गया है। रंग बदलने के आदेश पर हर सेगमेंट (हिस्सा) स्वचालित रूप से नियंत्रित होते हुए अपना रंग बदलता है। इस तरह कुछ ही क्षणों में लगभग अनंत प्रकार के मनचाहे पैटर्न पैदा किए जा सकते हैं।
 
कार है भविष्य का पूर्वाभास
 
कार के नाम में 'Dee' का अर्थ है 'डिजिटल इमोशनल एक्सपीरियंस' ('डिजिटल भावनात्मक अनुभव)'। बीएमडब्ल्यू के निदेशक मंडल के एक सदस्य फ्रांक वेबर का कहना है कि 'बीएमडब्ल्यू आई विजन डी' हमारी आभासी (वर्चुअल) और भौतिक (फिजिकल) अनुभूतियों का पूर्णतम एकीकरण है।'
 
बीएमडब्ल्यू की यह नई कार भविष्य की कारों की अभी से दिखा रही झलक के समान है। कार चालक के सामने के पूरे विंडशील्ड को झणभर में एक वाइडस्क्रीन डिस्प्ले में बदला जा सकता है। स्पीडोमीटर, नेविगेशन सिस्टम और अन्य सभी जानकारियां विंडस्क्रीन पर हेड-अप डिस्प्ले के माध्यम से एकदम सामने दिखाई पड़ेंगी।
 
पहली नजर में कार के भीतर आपको कोई स्क्रीन दिखाई नहीं देती। लेकिन जब चाहें तब कार की पूरी भीतर चौड़ाई में हेडअप डिस्प्ले की तरह ही एक अलग स्क्रीन पैदा कर सकते हैं और उस पर जो चाहें, सो देख या दिखा सकते हैं।
 
कार भी, कार्यालय भी
 
इसी तरह जब मन हो, तब कार के भीतरी भाग को कार्यालय या खेल की दुनिया में बदला जा सकता है। जब तक कार केवल चलानी है, कुछ और नहीं करना है, तब तक कार के भीतर या हेड-अप डिस्प्ले पर केवल न्यूनतम आवश्यक जानकारियों को रहने दिया जा सकता है। कार पार्क करने के बाद उसके भीतरी हिस्से को कार्यालय या वर्चुअल गेम की दुनिया में बदल दिया जा सकता है।
 
'बीएमडब्ल्यू आई विजन डी' कार का डैशबोर्ड वैसे तो खाली दिखता है लेकिन वह शाई-टेक कहलाने वाले ऐसे सेंसरों से लैस है, जो कार चालक को विस्तारित (ऑगमेन्टेड) हेड-अप डिस्प्ले पर देखी जा सकने वाली डिजिटल जानकारी या सामग्री की मात्रा निर्धारित करने की संभवना देते हैं।
 
webdunia
चालक को 5 विकल्पों के बीच चयन करना होगा
 
एनालॉग जानकारी, ड्राइविंग से संबंधित जानकारी, संचार प्रणाली (टेलीकम्युनिकेशन) और आभासी दुनिया में प्रवेश करने के लिए संवर्धित (ऑगमेन्टेड) वास्तविकता प्रोजेक्शन। 'बीएमडब्ल्यू आई विजन डी' में मिश्रित वास्तविकता का अनुभव बिना किसी अतिरिक्त सहायता के एक ऐसे तरीके से किया जा सकता है, जो हमारी विभिन्न इंद्रियों को संबोधित करें। बीएमडब्ल्यू कंपनी का दावा है कि इस कार को चलाने वाला ड्राइविंग की खुशी का एक नया आयाम अनुभव करेगा।
 
कार के साथ बातचीत की सुविधा भी
 
बीएमडब्ल्यू समूह कारों के हेड-अप डिस्प्ले के क्षेत्र में पहले से ही अग्रणी रहा है और लगातार 2 दशकों से इस तकनीक के विकास में जुटा हुआ है। 'बीएमडब्ल्यू आई विजन डी' में वह कार चालक के सामने की विंडस्क्रीन की पूरी चौड़ाई को आवश्यक जानकारियों के लिए प्रोजेक्शन-डिस्प्ले बनाने के प्रयासों में अब जाकर इच्छित सफल प्राप्त कर पाया है। इस नई कार और उसके चालक के बीच बातचीत की सुविधा भी होगी।
 
कार का बिलकुल नए ढंग से डिजाइन किया गया स्टीयरिंग व्हील ऐसे स्पर्श बिंदुओं (टच प्वॉइंट्स) से लैस है, जो छूने पर सक्रिय हो जाते हैं। उन्हें अंगूठे से छूकर संचालित किया जा सकता है। ये 'फिजिटल' (फिजिकल-डिजिटल) टच प्वॉइंट विस्तारित हेड-अप डिस्प्ले के साथ 'हैंड्स ऑन व्हील, आइज ऑन द रोड' (हाथ स्टीयरिंग पर, आंखें सड़क पर) के सिद्धांत के अनुसार काम करते हुए विंडस्क्रीन पर प्रक्षेपित सामग्री के चयन को नियंत्रित करते हैं।
2025 से इस नई कार का नियमित उत्पादन शुरू होगा। कार की कोई कीमत अभी नहीं बताई गई है, पर स्वाभाविक है कि गांठ के पूरे बहुत उत्साही कार-प्रेमी ही इसे खरीदने का साहस दिखाएंगे।
 
(इस लेख में व्यक्त विचार/ विश्लेषण लेखक के निजी हैं। इसमें शामिल तथ्य तथा विचार/ विश्लेषण 'वेबदुनिया' के नहीं हैं और 'वेबदुनिया' इसकी कोई जिम्मेदारी नहीं लेती है।)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कमलनाथ की अफसरों-कर्मचारियों को चेतावनी,हमारी चक्की बहुत बारीक पीसेगी, इंदौर में प्रवासी भारतीयों के अपमान पर जताई चिंता