2012 के बाद पहली बार ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में गिरावट, ब्रेक्जिट को लेकर बढ़ी अनिश्चितता

शुक्रवार, 9 अगस्त 2019 (21:55 IST)
लंदन। ब्रेक्जिट से संबंधित अनिश्चितताओं से कारोबारी निवेश के प्रभावित होने के कारण ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में इस साल की दूसरी तिमाही में गिरावट दर्ज गई। यह साढ़े 6 साल बाद हुआ है। आधिकारिक आंकड़ों में शुक्रवार को यह जानकारी दी गई।
 
ब्रिटेन की अर्थव्यवस्था में यह संकुचन 2012 की चौथी तिमाही के बाद पहली बार हुआ है। अधिकांश अर्थशास्त्री अर्थव्यवस्था के स्थिर रहने का अनुमान लगा रहे थे। ऐसे में संकुचन अप्रत्याशित माना जा रहा है। राष्ट्रीय सांख्यिकी कार्यालय ने कहा कि यह गिरावट ऐसे समय दर्ज हुई है जबकि ब्रेक्जिट की नियोजित समयसीमा को लेकर अनिश्चितता बढ़ी हुई है।
 
इस साल के मार्च में ही ब्रिटेन को यूरोपीय संघ से बाहर निकल जाना था, हालांकि यूरोपीय संघ के साथ हुए करार को संसद द्वारा खारिज किए जाने के बाद अब यह अक्टूबर में होने वाला है।
 
ब्रेक्जिट की समयसीमा को टालने के निवेदन से पहले कंपनियों ने भंडार बढ़ाने पर जोर दिया जिससे पहली तिमाही में जीडीपी में 0.5 प्रतिशत की वृद्धि हुई, हालांकि बाद में जब कंपनियों ने भंडार जमा करना बंद किया तो इसका असर वृद्धि दर पर पड़ा।
 
उल्लेखनीय है कि बैंक ऑफ इंग्लैंड ने पिछले सप्ताह कहा था कि ब्रेक्जिट सुगमता से होने के बाद भी ब्रिटेन, 2020 की शुरुआत में मंदी की चपेट में आ सकता है। 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख AIIMS का मेडिकल बुलेटिन जारी, अरुण जेटली की हालत स्थिर, ICU में भर्ती