चीन में बच्चों को सूई से गोदने वाली शिक्षिका की कम सजा पर आलोचना

शुक्रवार, 28 दिसंबर 2018 (20:33 IST)
बीजिंग। सूई से बच्चों को यातना देने वाली एक शिक्षिका को 18 महीने की जेल की सजा को लेकर सोशल मीडिया पर तीखी आलोचना हुई है और सजा को बहुत कम बताया गया है।
 
 
बीजिंग चाओयांग कोर्ट ने कहा कि आरवाईबी एजुकेशन न्यू वर्ल्ड केजी में शिक्षिका लीयू यनान ने नवंबर 2017 में 4 बच्चों को सूई से गोद दिया था। इस मामले की राष्ट्रीय स्तर पर खूब आलोचना हुई थी। द्विभाषी चीनी-अंग्रेजी स्कूल के बच्चों के शरीर पर सूई से गोदे जाने के निशान मिलने पर जांच की गई। इस तरह के भी आरोप लगे कि बच्चों को रहस्यमयी दवा भी दी गई।
 
अदालत ने एक बयान में कहा कि बहुत ही घृणित घटना थी। शिक्षिका के व्यवहार ने बच्चों को शारीरिक और मानसिक रूप से बहुत नुकसान पहुंचाया, हालांकि बच्चे गंभीर रूप से घायल नहीं हुए। सजा पूरी होने के बाद अगले 5 साल तक लीयू के बच्चों के साथ काम करने पर रोक भी रहेगी।
 
स्कूल चलाने वाली कंपनी आरवाईबी एजुकेशन ने घटना के लिए माफी मांगी है। बहरहाल, सजा को लेकर सोशल मीडिया पर जबरदस्त प्रतिक्रिया आई है। लोगों का कहना है कि किसी भी अधिकारी को दंडित नहीं किया गया। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख क्या आप राजनाथ सिंह को विवाह का विशेषज्ञ मानते हो...