अम्फान : बांग्लादेश में 20 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया

गुरुवार, 21 मई 2020 (01:00 IST)
ढाका। बांग्लादेश में भीषण चक्रवात अम्फान आने के मद्देनजर 20 लाख से अधिक लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजा गया है और इस प्राकृतिक आपदा से जुड़ी घटनाओं से निपटने के लिए सेना को तैनात किया गया है। प्रधानमंत्री शेख हसीना ने बुधवार को यह जानकारी दी।
 
अधिकारियों ने देश के कुछ जिलों को ‘अधिक खतरे’ के स्तर पर रखा है। चक्रवात देश के तटीय क्षेत्र के निकट पहुंच रहा है। इसे 2007 में देश में आए चक्रवात ‘सिद्र’ के बाद सबसे अधिक प्रचंड चक्रवात माना जा रहा है। ‘सिद्र’ से देश में 3,500 लोगों की मौत हुई थी।
 
हसीना ने राष्ट्रीय आपदा प्रबंधन परिषद (एनडीएमसी) की बैठक में कहा कि हमारी तैयारी (चक्रवात अम्फान से निपटने की) है। हम वह हरसंभव कदम उठा रहे हैं जो हमें जानमाल के नुकसान को रोकने के लिए उठाना चाहिए। एनडीएमसी का गठन महाचक्रवात से निपटने की तैयारियों की समीक्षा के लिए किया गया है।
 
डेली स्टार समाचार-पत्र ने अपनी खबर में प्रधानमंत्री के हवाले से कहा कि चक्रवात पूर्व तैयारियों के तहत 20 लाख से अधिक लोगों को चक्रवात आश्रय केन्द्रों में पहुंचाया गया है। इसके लिए करीब 13,241 चक्रवात आश्रय केन्द्र बनाए गए हैं।
 
बीडीन्यूज 24 डॉटकॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, बांग्लादेश की सेना, नौसेना और वायुसेना ने चक्रवात से निपटने की तैयारी कर ली है। चक्रवात बांग्लादेश के तट की ओर 400 किमी अंदर आ गया है और बुधवार शाम तक इसके असर दिखाने की आशंका है।
 
रिपोर्ट में आपदा प्रबंधन एवं राहत मंत्री इनामुर रहमान के हवाले से कहा गया कि बुधवार शाम 6 बजे चक्रवात आने की आशंका है। मंगलवार को अधिकारियों ने 22 लाख लोगों को सुरक्षित स्थानों पर भेजने का काम शुरू कर दिया था।
 
रिपोर्ट में कहा गया कि नौसेना ने आपात राहत, बचाव और चिकित्सा अभियान चलाने के त्रिस्तरीय प्रयासों के तहत 25 नौकाओं को तैनात किया है। रिपोर्ट में कहा गया है कि सेना और वायुसेना को भी अलर्ट पर रखा गया है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Super Cyclone Amphan : अम्फान से बंगाल-ओडिशा में भारी तबाही, 3 की मौत, 6.5 लाख को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया