इमरान खान बोले, समय की जरूरत के आधार पर नेतृत्व में 'यू टर्न' आवश्यक

रविवार, 18 नवंबर 2018 (16:45 IST)
इस्लामाबाद। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि किसी देश के वास्तविक नेता को हमेशा 'यू-टर्न' लेना पड़ता है तथा स्थिति के अनुरूप और समय की जरूरत के आधार पर नेता अपनी रणनीति में बदलाव करते हैं।
 
 
डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक खान ने यहां मीडिया से कहा कि जो नेता समय रहते 'यू-टर्न' नहीं लेता, वह वास्तविक नेता नहीं है। उन्होंने इस संदर्भ में जर्मनी के नेता एडोल्फ हिटलर और फ्रांस के सैन्य नेता नेपोलियन बोनापार्ट की रूस के युद्ध में विफलता का जिक्र करते हुए कहा कि हिटलर और नेपोलियन दोनों को हार का सामना करना पड़ा, क्योंकि दोनों ने परिस्थिति के हिसाब से अपनी रणनीतियों में बदलाव नहीं किया था जिसके परिणामस्वरूप उनकी सेनाओं को रूस में असहाय होना पड़ा था।
 
प्रधानमंत्री ने कहा कि नेताओं को हमेशा राष्ट्र के बेहतर हितों और अपने कर्तव्यों की जरूरत के हिसाब से यू-टर्न लेने के लिए तैयार रहना चाहिए। दिलचस्प बात यह है कि विपक्ष हमेशा खान पर राजनीति में यू-टर्न लेने तथा राष्ट्र से किए गए वादों से पीछे हटने का आरोप लगाता रहा है। वास्तव में खान को प्राय: 'यू-टर्न का मास्टर' बताया जाता है।
 
खान के बयान पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए पाकिस्तान पीपुल्स पार्टी के वरिष्ठ नेता सैयद खुर्शीद शाह ने कहा कि अपने बयान के जरिए खान ने खुद को 'हिटलर' बताते कहा कि हिटलर एक तानाशाह था और उनका उदाहरण देकर खान ने साबित किया है कि वे भी एक तानाशाह हैं। (वार्ता)

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING