सनकी तानाशाह किम जोंग ने ली यह प्रतिज्ञा

बुधवार, 13 दिसंबर 2017 (13:35 IST)
सोल। किम जोंग उन ने उत्तर कोरिया को 'विश्व का सबसे शक्तिशाली परमाणु ताकत' बनाने का प्रण  लिया है। सरकार की मीडिया के हवाले से यह जानकारी दी गई। इसी के साथ उत्तर कोरिया ने संकेत दे दिए हैं कि वह विश्व के लिए खतरा बने अपने हथियार कार्यक्रमों पर लगाम लगाने के लिए कतई तैयार नहीं है।
 
उत्तर कोरिया ने मिसाइल परीक्षणों की झड़ी लगाकर और अब तक अपना सबसे बड़ा परमाणु परीक्षण कर अंतरराष्ट्रीय समुदाय के लिए परेशानी खड़ी कर दी है। इसका पूरा प्रयास अमेरिका पर हमला कर सकने में सक्षम मुखास्त्र तैयार करने का है।
 
सरकारी समाचार एजेंसी केसीएनए के मुताबिक नए मिसाइल परीक्षण को सफल बनाने वाले कर्मियों से किम ने कहा कि उनका  देश 'विजयी तरीके से आगे बढ़ेगा और विश्व की सबसे शक्तिशाली परमाणु ताकत और सैन्य ताकत बनेगा। किम की यह टिप्पणी ऐसे समय में आई है जब वैश्विक ताकतें इस संकट का हल निकालने के लिए संघर्ष कर रही है। 
 
अमेरिका उत्तर कोरिया के परमाणु कार्यक्रम को रोकने के लिए किम प्रशासन पर कड़े आर्थिक और कूटनीतिक प्रतिबंध लगा चुका है, लेकिन उत्तर कोरिया के मिसाइल परीक्षण अब भी जारी हैं। ये परीक्षण अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के लिए बड़ी चुनौती बन  गए हैं। (भाषा) 

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख एडीबी ने घटाई जीडीपी की अनुमानित वृद्धि दर