अमेरिका और दक्षिण कोरिया पर दबाव बढ़ा रहा है उत्तर कोरिया, फिर किए परीक्षण

शुक्रवार, 2 अगस्त 2019 (16:22 IST)
सियोल। दक्षिण कोरिया की सेना ने कहा कि उत्तर कोरिया ने अपने पूर्वी तट से समुद्र में गुरुवार देर रात 2 बार अज्ञात प्रोजेक्टाइल प्रक्षेपित किए। महज एक हफ्ते में उत्तर कोरिया का यह तीसरा हथियार प्रक्षेपण है। उत्तर कोरिया की बढ़ती परीक्षण गतिविधियों का मकसद परमाणु वार्ता की धीमी गति को लेकर दक्षिण कोरिया और अमेरिका पर दबाव बढ़ाना है।

सियोल के ज्वाइंट चीफ्स ऑफ स्टाफ ने कहा कि प्रक्षेपण पूर्वी तटीय क्षेत्र से देर रात 2:59 बजे और 3:23 बजे किया गया, लेकिन इस बात की तुरंत पुष्टि नहीं हुई कि कितने प्रोजेक्टाइल दागे गए या उनकी दूरी कितनी थी। उत्तर कोरिया ने 25 जुलाई को कम दूरी की बैलिस्टिक मिसाइल प्रक्षेपित की थी।

विशेषज्ञों का कहना है कि अमेरिका-दक्षिण कोरिया के बीच होने वाले सैन्य अभ्यास और अमेरिका के साथ ठप पड़े परमाणु वार्ता को लेकर उत्तर कोरिया अपनी हताशा का प्रदर्शन कर रहा है। यदि अगले कुछ महीनों में वार्ता तेजी से आगे नहीं बढ़ती है तो उसके हथियार परीक्षणों की गति और तेज हो सकती है।

उधर, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा कि उन्हें उत्तर कोरिया के हालिया बैलिस्टिक मिसाइल परीक्षणों से कोई समस्या नहीं है। ट्रंप ने कहा, मुझे कोई समस्या नहीं है, हम देखेंगे कि क्या होता है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख क्रिकेट क्लब ऑफ इंडिया के एक गेट का नाम अब विजय मर्चेंट रखा जाएगा