Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ऋषि सुनक ने जाहिर की दिली ख्‍वाहिश, कहा- भविष्य में महिला फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी करे ब्रिटेन

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 1 अगस्त 2022 (17:57 IST)
लंदन। ब्रिटेन के पूर्व वित्तमंत्री और अगला प्रधानमंत्री बनने की दौड़ में अंतिम चरण में जगह बना चुके ऋषि सुनक ने महिला फुटबॉल को लेकर अपनी मंशा जाहिर करते कहा कि वे चाहते हैं कि देश की महिला फुटबॉल टीम के जर्मनी को हराकर यूरो चैंपियनशिप जीतकर इतिहास रचने के बाद इंग्लैंड भविष्य में महिला फुटबॉल विश्व कप की मेजबानी के लिए बोली लगाए।
 
लंदन के प्रतिष्ठित वेम्बले स्टेडियम में रविवार रात खिताबी जीत को महिला खेलों के लिए 'परिवर्तनकारी' करार देते हुए प्रधानमंत्री पद के दावेदार सुनक ने कहा कि वे चाहते हैं कि ब्रिटेन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खेल का घर बने और अगर वे चुने गए तो वे महिला फुटबॉल की समीक्षा की योजना में तेजी लाएंगे जिससे कि महिला फुटबॉल में अवसरों में इजाफा हो।
 
सुनक ने कहा कि ब्रिटेन प्रमुख खेल आयोजनों का एक शानदार मेजबान है, जो न केवल हमें अत्यधिक गौरवान्वित करता है बल्कि रोजगार और अवसर भी पैदा करता है। उन्होंने कहा कि मैं भविष्य के विश्व कप की बोली लगाने के लिए देश के फुटबॉल संघों के साथ काम करूंगा जिससे कि महिला टीम से प्रेरित लोगों के पास भविष्य में उत्साहित होने के लिए और चीजें हों। वैश्विक ब्रिटेन दुनिया के सर्वश्रेष्ठ खेल का घर होगा।
 
विश्व कप 2027 के लिए औपचारिक बोली प्रक्रिया शुरू होने वाली है और इसके बाद 2031 और 2035 विश्व कप के लिए भी बोली लगेगी। अगर सुनक को प्रधानमंत्री चुना जाता है तो महिला फुटबॉल की समीक्षा तुरंत शुरू की जा सकती है जिससे कि यूरो से बने उत्साह और महिला टीम की सफलता का फायदा उठाया जा सके।
 
भारतीय मूल के ब्रिटेन के 42 साल के पूर्व कैबिनेट मंत्री सुनक ने कहा कि ये यूरो परिवर्तनकारी रहे हैं। इस देश में महिला फुटबॉल के लंबे इतिहास में इस रुख बदलने वाली टीम ने किसी भी अन्य की तुलना में बाधाओं को तोड़ने में अधिक सफलता हासिल की है।
 
अपनी बेटियों अनुष्का और कृष्णा के संदर्भ में सुनक ने कहा कि मुझे बहुत गर्व है कि मेरी 2 बेटियां एक ऐसे देश में बड़ी हो रही हैं, जहां उनके लिए शानदार अवसर हैं, जो अपने खेल के शीर्ष पर हैं। अब हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि युवाओं के लिए एक ठोस जमीनी विरासत हो, जो उस चीज से प्रेरित हैं जिसे उन्होंने देखा है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

अरविंद केजरीवाल ने गुजरात में खोला वादों का पिटारा, 3 हजार रुपए महीना भत्ता, रोजगार पर 5 गारंटी का किया ऐलान