Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सलमान रुश्दी की हालत में सुधार, वेंटीलेटर हटाया गया

हमें फॉलो करें webdunia
रविवार, 14 अगस्त 2022 (10:06 IST)
न्यूयॉर्क। चौटाउक्वा इंस्टीट्यूशन के अध्यक्ष माइकल हिल ने बताया कि सलमान रुश्दी अब जीवन रक्षक प्रणाली (वेंटीलेटर) पर नहीं हैं और बात भी कर रहे हैं। प्रख्यात लेखक रुश्दी पर चौटाउक्वा इंस्टीट्यूशन में एक कार्यक्रम में मंच पर चाकू से हमला किया गया था, जिसके बाद उन्हें गंभीर हालत में अस्पताल में भर्ती कराया गया था।
हिल ने शनिवार रात को ट्वीट किया, 'सलमान रुश्दी अब वेंटीलेटर पर नहीं हैं और बातचीत कर रहे हैं। सभी लोग दुआएं कर रहे हैं।'
 
रुश्दी (75) पर पश्चिमी न्यूयॉर्क राज्य में चौटाउक्वा इंस्टीट्यूशन में शुक्रवार को एक कार्यक्रम में मंच पर 24 वर्षीय हादी मतार ने हमला कर दिया था, जिसके बाद वह वेंटीलेटर पर थे। हमले के बाद रुश्दी की कई घंटों तक सर्जरी हुई और उनके एजेंट एंड्रयू वायली ने ‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ को बताया कि लेखक वेंटीलेटर पर हैं और बात नहीं कर सकते हैं।
 
वायली ने एक बयान में कहा कि अच्छी खबर नहीं हैं। सलमान के एक आंख खोने की आशंका है, उनकी बांह की नसें कट गई हैं और उनका लिवर क्षतिग्रस्त हो गया है।
 
मतार पर हत्या की कोशिश का आरोप लगाया गया है,लेकिन उसने आरोप स्वीकार नहीं किए हैं। जिस वक्त उसे अदालत में पेश किया गया वह काले और सफेद धारियों का जम्पसूट पहने था।
 
न्यूयॉर्क स्टेट पुलिस ने बताया कि फेयरव्यू, न्यूजर्सी के मतार को हत्या की कोशिश के आरोप में शुक्रवार को आपराधिक जांच ब्यूरो ने गिरफ्तार किया। उसे चौटाउक्वा काउंटी जेल ले जाया गया। दुनियाभर के नेता और साहित्य जगत के लोग इस हमले से स्तब्ध हैं तथा उन्होंने इसकी निंदा की है।
 
अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडन ने भी बयान जारी कर कहा कि वह और प्रथम महिला जिल बाइडन लेखक पर विद्वेषपूर्ण हमले के बारे में जानकर स्तब्ध और दुखी हैं।
 
उन्होंने कहा कि सलमान रुश्दी मानवता के प्रति अपनी गहरी पहुंच, कहानी बयां करने की अपनी बेजोड़ कला, डरने या चुप बैठने से इनकार, जरूरी चीजों के लिए खड़े होने और सार्वभौमिक आदर्शों के लिए जाने जाते हैं। उनमें बिना डर के अपने विचारों को साझा करने की शक्ति है। ये किसी भी स्वतंत्र एवं मुक्त समाज की नींव हैं। आज हम रुश्दी तथा अभिव्यक्ति की आजादी के लिए खड़े सभी लोगों के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए अमेरिकी मूल्यों के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को पुन: दोहराते हैं।
 
‘द न्यूयॉर्क टाइम्स’ में प्रकाशित एक खबर के अनुसार, रुश्दी पर हमला पूर्व नियोजित था। मतार हमला करने के लिए बस से यात्रा करके आया था तथा उसने कार्यक्रम का पास खरीदा था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

शेयर कारोबारी राकेश झुनझुनवाला का निधन, कहे जाते थे भारत के वारेन बफेट