Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

प्रधानमंत्री पद के लिए सुनक के प्रचार अभियान को झटका, पूर्व उम्मीदवार ने लिज ट्रस का किया समर्थन

हमें फॉलो करें Rishi Sunak
रविवार, 31 जुलाई 2022 (00:49 IST)
लंदन। कंजर्वेटिव पार्टी का नेता और ब्रिटेन का अगला प्रधानमंत्री चुने जाने के लिए ऋषि सुनक के प्रचार अभियान को शनिवार को झटका लगा क्योंकि एक पूर्व उम्मीदवार ने उनकी प्रतिद्वंद्वी एवं विदेश मंत्री लिज ट्रस का अनुमोदन किया है। एक अन्य टोरी सांसद एवं रक्षामंत्री बेन वालेस ने भी ट्रस का समर्थन करते हुए उन्हें वास्तविक, ईमानदार और अनुभवी नेता बताया था।

टोरी (कंजर्वेटिव पार्टी के) सांसद एवं हाउस ऑफ कॉमंस की विदेश मामलों की समिति के अध्यक्ष टॉम टुगेंडहट ने कहा कि उन्होंने करों में तत्काल कटौती किए जाने के वादे को लेकर ट्रस को प्राथमिकता दी है। टुगेंडहट, इस महीने की शुरुआत में पार्टी के नेता पद की दौड़ से बाहर होने से पहले उम्मीदवारों की सूची में शामिल थे।

ब्रिटिश सेना के पूर्व सैनिक ने कहा कि टेलीविजन पर सीधे प्रसारण वाली बहस में उम्मीदवारों को देखने के बाद वह ट्रस का समर्थन करने के निष्कर्ष पर पहुंचे हैं। ‘द टाइम्स’ अखबार में उन्होंने लिखा, लिज देश में और विदेश में सदा ही ब्रिटिश मूल्यों के लिए खड़ी रही हैं। उनके हाथों में नेतृत्व रहने पर वह बेशक देश को कहीं अधिक सुरक्षित बनाने की प्रतिबद्धता के साथ आगे बढ़ेंगी।

उन्होंने कहा कि दोनों प्रतिद्वंद्वियों में काफी खूबियां हैं और वे प्रतिभा संपन्न हैं लेकिन ट्रस के कैबिनेट मंत्री रहने के चलते उन्हें (ट्रस को) विश्व मंच पर बढ़त हासिल है। उन्होंने लिखा है, विदेश मंत्री के तौर पर ट्रस को काफी बढ़त प्राप्त है। वह हमारी आवाज को सुना जाना सुनिश्चित करेंगी। इससे पहले, एक अन्य टोरी सांसद एवं रक्षा मंत्री बेन वालेस ने भी ट्रस का समर्थन करते हुए उन्हें वास्तविक, ईमानदार और अनुभवी नेता बताया था।

उल्लेखनीय है कि सुनक ने पहले कुछ चरणों में अपनी पार्टी के सहकर्मियों द्वारा किए गए मतदान में अधिकतर सांसदों का समर्थन हासिल किया था, लेकिन उसके बाद से टोरी सदस्यों के बीच मतदान में ट्रस अधिक लोकप्रिय नजर आई हैं।(भाषा) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Vyapam Scam : PMT में बैठाए फर्जी उम्मीदवार, 5 लोगों को 7-7 साल का कारावास