Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ब्रिटेन के रीडिंग शहर में आतंकी हमला, 3 लोगों की मौत

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 22 जून 2020 (00:06 IST)
लंदन। ब्रिटेन के रीडिंग शहर में एक व्यस्त पार्क में एक व्यक्ति ने शनिवार शाम चाकू से हमला कर तीन लोगों की हत्या कर दी और 3 अन्य को घायल कर दिया। यह 2017 में हुए लंदन ब्रिज हमले के बाद से सबसे भीषण आतंकी हमला है। इस घटना को एक अकेले व्यक्ति ने अंजाम दिया, जिसे लीबियाई शरणार्थी माना जा रहा है।
 
ब्रिटेन के आतंकवाद रोधी अधिकारियों ने रविवार को कहा कि वे रीडिंग स्थित फोरबुरी गार्डंस पार्क में हुए हमले की जांच ‘आतंकी घटना’ के रूप में कर रहे हैं। घटना के सिलसिले में गिरफ्तार 25 वर्षीय व्यक्ति का नाम ब्रिटिश मीडिया ने रविवार को खैरी सादल्ला के रूप में उजागर किया जो ब्रिटेन में रह रहा लीबियाई शरणार्थी है।
 
आतंकी हमले की जगह पर शनिवार शाम बुलाई गई पुलिस ने सादल्ला को मिनटों के भीतर पकड़ लिया और उसे हत्या के आरोप में गिरफ्तार कर लिया, जो हिरासत में है। खबरों के अनुसार सादल्ला लीबिया में गृहयुद्ध के चलते कई साल पहले शरणार्थी के रूप में ब्रिटेन आया था।
 
‘संडे टेलीग्राफ’ ने सुरक्षा सूत्रों के हवाले से कहा कि घटना में मानसिक स्वास्थ्य को एक बड़ा कारक माना जा रहा है। इसने कहा कि सादल्ला से अधिकारी अवगत थे क्योंकि वह पूर्व में छोटे-मोटे अपराधों के मामले में कम से कम 12 महीने जेल में रह चुका था।
 
पार्क में घटना के समय काफी भीड़ थी क्योंकि लोग अच्छे मौसम का लुत्फ उठाने के लिए घरों से बाहर निकले थे। चाकूधारी व्यक्ति को देखते ही लोग वहां से भागने लगे और वे जोर-जोर से ‘भागो, भागो’ चिल्ला रहे थे।
 
स्थानीय थेम्स वैली पुलिस ने प्रारंभ में हत्या की जांच शुरू की थी और कहा कि वह शहर के मध्य स्थित व्यस्त पार्क में शनिवार शाम हुए हमले के मकसद पर ध्यान केंद्रित कर रही है।
 
थेम्स वैली पुलिस ने एक बयान में कहा, ‘उप सहायक आयुक्त डीन हेडोन, आतंकवाद रोधी पुलिस नेटवर्क के वरिष्ठ राष्ट्रीय समन्वयक ने आज सुबह घोषणा की कि यह एक आतंकी हमला है, और दक्षिण-पूर्वी आतंकवाद रोधी पुलिस (सीटीपीएसई) जांच अपने हाथ में लेगी।’
 
बयान में कहा गया कि शनिवार को हत्या के संदेह में गिरफ्तार किया गया 25 वर्षीय व्यक्ति इस समय पुलिस की हिरासत में है। इसने इन खबरों का कोई जिक्र नहीं किया कि हमलावर लीबियाई शरणार्थी है।
 
ब्रिटेन के प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने कहा कि वह रीडिंग की भयावह घटना में मारे गए लोगों के परिजनों और मित्रों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हैं।

जॉनसन ने इस बात की पुष्टि की कि उन्होंने घटना की जानकारी लेने के लिए थेम्स वैली पुलिस से बात की। देश की गृह मंत्री प्रीति पटेल ने घटना पर गहरी चिंता व्यक्त करते हुए कहा, रीडिंग में हुई घटना की खबर सुनकर बेहद चिंतित हूं।
 
घटना की खबर से कुछ देर पहले ही संबंधित पार्क में नस्लवाद विरोधी ‘ब्लैक लाइव्स मैटर' प्रदर्शन हुआ था। पुलिस ने पुष्टि की कि यह घटना इस प्रदर्शन से नहीं जुड़ी है। मेट्रोपॉलिटन पुलिस के सहायक आयुक्त एवं आतंकवाद रोधी पुलिस के प्रमुख नील बसु ने हमले को ‘अत्याचार’ करार दिया।
 
भारतीय मूल के आतंकवाद रोधी पुलिस प्रमुख ने कहा कि इस घटना का हमले से पहले घटनास्थल पर हुए ‘ब्लैक लाइव्ज मैटर्स’ प्रदर्शन से कोई संबंध नहीं है। बसु ने हमलावर को काबू करने वाले नि:शस्त्र अधिकारियों की तारीफ की।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

भारतीय सेना को मिला 'Free hand', चीन को मुंहतोड़ जवाब देने की पूरी आजादी