Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

IPL 2020 : निकोलस पूरन ने अपनी फील्डिंग से सहवाग, सचिन और जोंटी रोड्‍स को अपना दीवाना बनाया

webdunia

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

सोमवार, 28 सितम्बर 2020 (18:22 IST)
शारजाह। किंग्स इलेवन पंजाब भले ही बीती रात आईपीएल में अपना रोमांचक मुकाबला राजस्थान रॉयल्स से 4 विकेट से हार गया हो लेकिन इस मैच पूरी क्रिकेट बिरादरी का ध्यान अपनी ओर आ‍कर्षित किया। कई नए रिकॉर्ड बने, मसलन जीत के लिए मिले आईपीएल इतिहास के सबसे बड़े लक्ष्य (223 रन) को अर्जित किया गया, सबसे बड़ी साझेदारी निभाई गई, किसी भारतीय बल्लेबाज द्वारा दूसरा सबसे तेज शतक ठोंका गया। इन सबसे अलग पंजाब के निकोलस पूरन ने कुछ ऐसा कर डाला, जिसके मुरीद सहवाग से लेकर जोंटी और सचिन तक हो गए।
 
जोंटी रोड्‍स का सिर झुकाकर सलाम : सोशल मीडिया में जहां राजस्थान के राहुल तेवतिया 31 गेंदों में 7 छक्कों से 53 रन की पारी खेलकर रातोरात हीरो बन गए, वहीं दूसरी तरफ सोशल मीडिया में राहुल के अलावा निकोलस पूरन की कमाल की फील्डिंग सोशल मीडिया में सुर्खियां बटोर रही हैं।

सोशल मीडिया में पूर्व सलामी बल्लेबाज सहवाग ने लिखा कि ग्रेविटी नाम की भी कोई चीज होती है जबकि सचिन तेंडुलकर ने लिखा कि मैंने अपने जीवन में इस तरह की फील्डिंग नहीं देखी। वहीं दक्षिण अफ्रीका के पूर्व बल्लेबाज जोंटी रोड्‍स ने सिर झुकाकर पूरन को सलाम किया। याद रहे कि जोंटी अपने वक्त के फील्डिंग बादशाह माने जाते थे।
पूरन ने हवा में 4 फीट गोता लगाया : वेस्टइंडीज के क्रिकेटर निकोलस पूरन ने यह कमाल की फील्डिंग पंजाब के गेंदबाज मुरुगन अश्विन के आठवें ओवर में की। इस ओवर की तीसरी फुल लेंथ गेंद पर संजू सैमसन ने सामने की तरफ ग्राउंड द डाउन छक्के के लिए स्ट्रोक खेला। लांग ऑन बाउंड्री पर पूरन फील्डर थे। पूरन ने हवा में गोता लगाते हुए बाउंड्री के करीब 4 फीट अंदर जाकर जाकर बेहद सफाई से गेंद को फील्ड में फेंक दिया। जहां संजू को 6 रन मिलने थे, वहां उन्हें केवल 2 रन ही मिले।
237 गेंदों में 449 रन बने और 9 विकेट गिरे :  पंजाब ने टॉस हारने के बाद 20 ओवर में 2 विकेट खोकर 223 रन बनाए जबकि राजस्थान ने 19.3 ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 226 रन बनाते हुए लक्ष्य अर्जित किया। आईपीएल में यह रिकॉर्ड बन गया, जब किसी टीम ने इतने बड़े लक्ष्य को अर्जित किया हो। पंजाब और राजस्थान के बीच खेले गए मैच में 29 छक्के (18 राजस्थान, 11 पंजाब) लगे और 34 बार (20 पंजाब, 14 राजस्थान) गेंद सीमा रेखा के पार चौके के लिए गई। कुल 237 गेंदों का खेल हुआ और कुल रन बने 449 व विकेट गिरे सिर्फ 9।
 
मैच में ये बने रिकॉर्ड : राजस्थान की टीम आईपीएल इतिहास की पहली टीम बन गई है जिसने इतना बड़ा लक्ष्य (223 रन) का हासिल किया। यह भी पहला प्रसंग है, जबकि एक मैच में 5 बल्लेबाजों ने 50 या उससे ज्यादा रन (मयंक अग्रवाल 106, संजू सैमसन 85, केएल राहुल 69, राहुल तेवतिया 53, स्टीव स्मिथ 50 बनाए।
 
सबसे बड़ी साझेदारी : आईपीएल में पहली बार सबसे बड़ी साझेदारी का रिकॉर्ड बना। किंग्स इलेवन पंजाब की सलामी जोड़ी (केएल राहुल, मयंक अग्रवाल) ने पहले विकेट की साझेदारी में 183 रन जोड़े। किसी भी विकेट के लिए भारतीय जोड़ी द्वारा यह सबसे बड़ी साझेदारी का कीर्तिमान क्रिकेट पुस्तिका में दर्ज हो गया।
 
दूसरा सबसे तेज शतक : आईपीएल में यूसुफ पठान पहले भारतीय खिलाड़ी थे, जिन्होंने 37 गेंदों में सबसे तेज शतक जड़ा था जबकि मयंक अग्रवाल ने 45 गेंदों में अपना सैकड़ा पूरा कर लिया। वे 50 गेंदों में 10 चौकों और 7 छक्के की मदद से 106 रन बनाकर आउट हुए।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

IPL 2020 : अमित मिश्रा के दिल का दर्द सामने आया, मैं जिसका हकदार था वो मुझे कभी नहीं मिला