Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

थकान की वजह से नहीं टीम के लिए खुद को रिटायर आउट करना चाहते थे फाफ डू प्लेसिस

50 गेंदो में 73 रन जड़ने वाले बेंगलोर के कप्तान फाफ डू प्लेसिस सोच रहे थे रिटायर आउट होने के बारे में

हमें फॉलो करें webdunia
सोमवार, 9 मई 2022 (17:31 IST)
मुम्बई:रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के कप्तान फ़ाफ़ डुप्लेसी ने कहा है कि सनराइज़र्स हैदराबाद के ख़िलाफ़ मैच के दौरान वह पारी का अंत आते-आते थक गए थे और ख़ुद को रिटायर्ड आउट करने का सोच रहे थे ताकि दिनेश कार्तिक मैदान पर आ सकें। हालांकि 19वें ओवर की दूसरी गेंद पर उनके साथी ग्लेन मैक्सवेल ही आउट हो गए और इसके बाद दिनेश कार्तिक ने आकर आठ गेंदों में 30 रन की पारी खेली। इससे बेंगलुरु 192 के एक चुनौतीपूर्ण स्कोर तक पहुंच गया।

डुप्लेसी ने कहा, "अगर कार्तिक इसी तरह से छक्के लगाते रहे, तो कोई भी दूसरे छोर से उनको बल्लेबाज़ी करते देखना चाहेगा। वह अपनी भूमिका को लेकर बहुत ही स्पष्ट हैं। मैं बीच में कोशिश भी कर रहा था कि मैं आउट हो जाऊं ताकि कार्तिक बल्लेबाज़ी के लिए आ सके। मैं बहुत थक भी गया था और जब वह बल्लेबाज़ी करने आएं तो मैंने उन्हें बताया कि मैं रिटायर्ड आउट होने की सोच रहा था।" डुप्लेसी ने इस पारी में 50 गेंदों पर 73 रन बनाए।
webdunia

हर्षा भोगले ने उनसे दो बार पूछा कि क्या वह 'रिटायर्ड आउट' होने की सोच रहे थे? डुप्लेसी ने कहा, "हां रिटायर्ड आउट, लेकिन तभी हमने विकेट खो दिया। हालांकि एक दूसरी सोच यह भी थी कि इस पिच पर बल्लेबाज़ी करना आसान नहीं है और शॉट खेलने से पहले बल्लेबाज़ों को कुछ गेंद समझना पड़ रहा था। इसलिए मैं सोच रहा था कि अगर कार्तिक आएंगे तो उन्हें भी हाथ खोलने से पहले कुछ गेंद लगेगा। हालांकि ऐसा नहीं हुआ और उन्होंने पहली गेंद से ही शॉट खेलें। उनका एक कैच भी छूटा, जिसका हमें फ़ायदा मिला।"

पिछले महीने लखनऊ सुपर जायंट्स के ख़िलाफ़ राजस्थान रॉयल्स केरविचंद्रन अश्विन रिटायर्ड आउट हुए थे ताकि अंतिम कुछ गेंदों पर रियान पराग आकर खुल के शॉट खेल सकें। ऐसा आईपीएल में पहली बार हुआ था।

डुप्लेसी ने अपने भारतीय युवा बल्लेबाज़ों सुयश प्रभुदेसाई, रजत पाटीदार और महिपाल लोमरोर की तारीफ़ की और कहा कि वे भाग्यशाली हैं कि उन्हें टीम संतुलन को बिठाने के लिए कुछ युवा प्रतिभाशाली भारतीय बल्लेबाज़ मिले हैं।
webdunia

पांच विकेट लेने वाले वनिंदु हसरंगा के बारे में उन्होंने कहा, "मैं वानी (हसरंगा) के लिए बहुत ख़ुश हूं। वह किसी ऐसे मैच की तलाश कर रहे थे, जब वह पूरी बल्लेबाज़ी को तहस-नहस कर दें। अच्छा लगा कि ऐसा मैच आ ही गया। वह ना आपको केवल महत्वपूर्ण चार ओवर देते हैं बल्कि पारी के अंत में आकर कुछ महत्वपूर्ण रन भी बना सकते हैं।"(वार्ता)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

लवलीना के मुकाबले से शुरु होगा भारत का महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप अभियान, सामने होंगी पूर्व चैंपियन