Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

IPL 2023 भी खेलेंगे महेंद्र सिंह धोनी लेकिन अगले साल संन्यास पर नहीं खोले पत्ते (वीडियो)

हमें फॉलो करें ms dhoni
शुक्रवार, 20 मई 2022 (21:47 IST)
चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने शुक्रवार को कहा कि अगले साल मेरे पास चेन्नई में खेलने का मौक़ा होगा। अगला साल मेरा आख़िरी साल होगा या नहीं, ये तो मुझे नहीं पता।

धोनी ने टॉस जीतने के बाद कहा,' मेरे लिए चेन्नई में जाकर नहीं खेलना नाइंसाफी होगी। एक खिलाड़ी या व्यक्ति के तौर पर वहां मुझे बहुत प्यार मिला है। अगले साल मेरे पास चेन्नई में खेलने का मौक़ा होगा। अगला साल मेरा आख़िरी साल होगा या नहीं, ये तो मुझे नहीं पता लेकिन मैं यह ज़रूर कह सकता हूं कि अगले साल हम मज़बूती से वापसी करेंगे।'
दो बार विश्व कप जीतने वाली भारतीय टीम के कप्तान रहे महेंद्र सिंह धोनी ने शुक्रवार को कहा कि वह ‘निश्चित तौर’ पर इंडियन प्रीमियर लीग के अगले सत्र में खेलेंगे क्योंकि ऐसा नहीं करना उस शहर के प्रति ‘अनुचित’ होगा जिससे चेन्नई सुपरकिंग्स को अपना नाम मिला और जो शहर उन्हें अपना समझता है।

इसके साथ ही 40 साल के धोनी ने अगले साल इस लुभावनी टी20 लीग में अपने खेलने को लेकर लग रही अटकलों पर भी विराम लगा दिया।

राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ सुपरकिंग्स के मौजूदा सत्र के अंतिम मैच के टॉस के दौरान धोनी ने कहा, ‘‘निश्चित तौर पर मैं अगले साल खेलूंगा। चेन्नई को धन्यवाद नहीं कहना, चेन्नई में नहीं खेलना अनुचित होगा। यह सुपरकिंग्स के प्रशंसकों के साथ अच्छा बर्ताव नहीं होगा। ’’उन्होंने कहा, ‘‘2023 मेरा अंतिम साल होगा या नहीं, यह हमें देखना होगा।’’

तमिलनाडु में पूर्व भारतीय कप्तान धोनी के प्रशंसकों की कोई कमी नहीं है। कुछ समय पहले सोशल मीडिया पर एक पोस्ट वायरल हुआ था जिसमें उनका एक प्रशंसक तमिलनाडु के कुडालोर में अपने घर को चेन्नई सुपरकिंग्स के पीले रंग में पेंट कर रहा था और दीवार पर धोनी की तस्वीरें बनी थी।

दो दिन पहले सुपरकिंग्स के एक निराश प्रशंसक के पत्र पर धोनी के जवाब ने लोगों का दिल जीत लिया था।चार बार के चैंपियन सुपरकिंग्स के लिए आईपीएल का मौजूदा सत्र सबसे बदतर अभियान में से रहा है और टीम काफी पहले ही प्ले आफ की दौड़ से बाहर हो चुकी थी।
webdunia

सुपरकिंग्स के धोनी (206 रन), अंबाती रायुडू (271) और रोबिन उथप्पा (230) जैसे अधिकांश सीनियर खिलाड़ियों के लिए मौजूदा सत्र काफी अच्छा नहीं रहा जो टीम की विफलता का अहम कारण रहा।

इसके अलावा टीम को चोटिल तेज गेंदबाज दीपक चाहर की भी कमी खली और टीम जोश हेजलवुड को भी अपने साथ जोड़ने में नाकाम रही।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

मोइन अली के 93 रनों के बावजूद चेन्नई ने राजस्थान के खिलाफ बनाए सिर्फ 150 रन