जयसूर्या रहे आईपीएल के 'सिक्सर किंग'

सोमवार, 2 जून 2008 (18:05 IST)
विस्फोटक बल्लेबाज सनथ जयसूर्या की मुम्बई इंडियन्स टीम आईपीएल ट्वेंटी-20 क्रिकेट टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में भले ही नहीं पहुँच पाई हो, लेकिन टूर्नामेंट के 'सिक्सर किंग' का ताज जयसूर्या के सिर पर ही सजा।

14 मैचों में 42.83 के औसत से 514 रन बनाने वाले जयसूर्या ने टूर्नामेंट में सर्वाधिक 31 छक्के मारे। जयसूर्या ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ अपनी नाबाद 114 रन की पारी में 11 छक्के लगाए थे। यह तादाद कोलकाता नाइट राइडर्स के ब्रेडन मैकुलम द्वारा टूर्नामेंट के उद्‍घाटमैच में लगाए गए 13 छक्कों के बाद सबसे ज्यादा है।

छक्के मारने के मामले में जयसूर्या के बाद किंग्स इलेवन पंजाब के जोरदार ओपनर शॉन मार्श का नम्बर आता है। मार्श ने 11 मैचों में 26 छक्के उड़ाए। वह टूर्नामेंट में 68.44 के शानदार औसत से सर्वाधिक 616 रन बनाने में भी कामयाब रहे। उन्होंने राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ अपनी टीम के अंतिम लीग मैच में 115 रन की विस्फोटक पारी के दौरान सात छक्के जड़े थे1

अपनी आक्रामक बल्लेबाजी से क्रिकेट प्रेमियों का दिल जीतने वाले राजस्थान रॉयल्स के दाएँ हाथ के बल्लेबाज यूसुफ पठान ने अब तक खेले गए 16 मैचों में 25 छक्के उड़ाए और वह इस फेहरिस्त में तीसरे नम्बर पर हैं। पठान ने डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ अपनी 68 रन की पारी में छह गगनचुम्बी छक्के उड़ाए थे1 आईपीएल के फाइनल मैच में 'मैन ऑफ द मैच' रहे पठान ने टूर्नामेंट में 31.07 के औसत से 435 रन बनाए1

छक्के मारने के मामले में दिल्ली डेयरडेविल्स के कप्तान वीरेन्द्र सहवाग का चौथा नम्बर है। टूर्नामेंट में सेमीफाइनल तक का सफर तय करने वाली डेयरडेविल्स के आक्रामक ओपनर सहवाग ने टूर्नामेंट के 14 मैचों में 21 छक्के उड़ाए, जिसमें डेक्कन चार्जर्स के खिलाफ नाबाद 94 रन की पारी में लगाए गए छह जोरदार छक्के शामिल हैं1 सहवाग ने टूर्नामेंट में 14 मैचों में 33.83 के औसत से 406 रन बनाए।
webdunia-ad

वेबदुनिया पर पढ़ें