चीनी APP बैन होने से भारतीय ऐप तेजी से हो रहे हैं डाउनलोड, हर घंटे मिल रहे हैं 5 लाख नए यूजर्स

गुरुवार, 2 जुलाई 2020 (19:31 IST)
नई दिल्ली। शेयर चैट, रोपोसो और चिंगारी जैसी भारतीय ऐप के डाउनलोड 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाए जाने के बाद तेजी से बढ़े हैं। इन ऐप्स के सिर्फ डाउनलोड नहीं बढ़े हैं बल्कि यूजर्स के इन पर खाता बनाने में भी बढ़ोतरी देखी गई है। शेयर चैट स्थानीय भाषाओं में सेवा देने वाली देश की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कंपनी है। कंपनी ने बुधवार को कहा कि पिछले दो दिन में उसकी वृद्धि में अचानक से तेजी दर्ज की गई है। कंपनी का दावा है कि उसकी ऐप के हर घंटे लगभग 5 लाख डाउनलोड हो रहे है।
 
सोमवार शाम को चीनी एप पर प्रतिबंध लगने के बाद उसकी ऐप के 1.5 करोड़ से अधिक डाउनलोड हो चुके हैं। उल्लेखनीय है कि सरकार ने सोमवार शाम को राष्ट्रीय सुरक्षा, अखंडता और डेटा सुरक्षा का हवाला देते हुए टिकटॉक, वीचैट, कैमस्कैनर जैसरी 59 चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगा दिया था। सरकार के इस फैसले को गलवान घाटी में चीन के साथ हिंसक संघर्ष में 20 भारतीय जवानों के शहीद होने की घटना से जोड़कर देखा जा रहा है।
 
शेयरचैट के सह-संस्थापक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी फरीद अहसान ने पीटीआई से कहा कि  जिस तरह से लोग अपार संभावनाओं के लिए शेयरचैट के बारे में पता कर रहे हैं, हम उससे काफी रोमांचित है। हमें भरोसा है कि यह शेयर चैट की सफलता की एक और आधारशिला रखेगा।

ALSO READ: कोरोना काल में अब हो सकेगी क्लासरूम की तरह पढ़ाई, IIT कानपुर ने तैयार किया मोबाइल मास्टरजी
 
कंपनी ने कहा कि चीनी ऐप पर प्रतिबंध लगाने के फैसले का समर्थन करने वाली वह करीब एक लाख से अधिक पोस्ट देख चुकी है। शेयर चैट के देश में 15 करोड़ से अधिक पंजीकृत यूजर्स हैं। इनमें मासिक तौर पर सक्रिय यूजर्स की संख्या करीब 6 करोड़ है। कंपनी 15 भारतीय भाषाओं में अपनी सेवांए देती है।
 
अन्य घरेलू एप रोपोसो का कहना है कि प्रतिबंध के बाद कई टिकटॉक यूजर्स उसके मंच पर आए हैं। इसमें कई टिकटॉक इंफ्लूएंसर (प्रभावशाली यूजर्स) भी शामिल हैं।

इनमोबी समूह की यह ऐप 12 भारतीय भाषाओं में उपलब्ध है। इस मंच पर वीडियो बनाने वाले करीब 1.4 करोड़ यूजर्स हैं, जबकि इस पर हर महीने लगभग आठ करोड़ वीडियो डाले जाते हैं। रोपोसो के सह-संस्थापक मयंक भानगड़िया ने कहा कि उनका उदेश्य भारतीयों के लिए सबसे बड़ा योग्यता प्रस्तुति मंच बनना है जो खुद भी भारतीय हो।
 
लॉकडाउन के दौरान पेश की गई बॉक्सेंगेज डॉट कॉम के सक्रिय यूजर्स की संख्या में प्रतिबंध के बाद 24 घंटे में करीब 10 गुना वृद्धि दर्ज की गई है। यह एक वीडियो शेयरिंग ऐप है। कंपनी अभी सिर्फ वेबसाइट चलाती है। जल्द ही अपना मोबाइल ऐप भी पेश करने वाली है।

टिकटॉक की भारतीय प्रतिद्वंदी चिंगारी ऐप का कहना है कि पिछले कुछ हफ्तों में उसके डाउनलोड में अचानक से वृद्धि दर्ज की गई है। इसके 25 लाख से अधिक डाउनलोड हो चुके हैं। कंपनी के सहसंस्थापक सुमित घोष ने सरकार के टिकटॉक पर प्रतिबंध का स्वागत किया। साथ ही टिकटॉक यूजर्स को उनके प्लेटफार्म पर आमंत्रित भी किया। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख कराची हमले पर UNSC के बयान में विलंब पाकिस्तान को ‘संदेश’ देने के लिए हुआ