हैकिंग से बचाने के लिए JioMeet ने जोड़े अतिरिक्‍त सिक्योरिटी फीचर

मंगलवार, 7 जुलाई 2020 (23:47 IST)
नई दिल्ली। रिलायंस इंडस्ट्रीज (Reliance Industries) ने अपनी असीमित मुफ्त वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग ऐप ‘जियोमीट’ (JioMeet) में अतिरिक्त सुरक्षा फीचर जोड़े हैं। इसका मकसद जूम जैसे ऐप पर हुए साइबर हमलों से और हैकरों से ऐप की सुरक्षा करना है। जूम ऐप पर हुए हैकरों के हमले में लोगों को उनकी स्क्रीन पर अभद्र तस्वीरें दिखनी शुरू हुई थीं।
 
कंपनी ने मंगलवार को कहा कि जियोमीट पर ग्राहक 24 घंटे मुफ्त वीडियो कॉन्फ्रेंस कर सकते हैं। यह ऐप कूट भाषा और पासवर्ड से सुरक्षित है।
 
कंपनी ने कॉन्फ्रेंस आयोजित करने वाले के लिए अतिरिक्त सुरक्षा फीचर भी ऐप में जोड़े हैं। इस सुरक्षा फीचर के तहत उसे बिना लॉगइन या अपनी पहचान जाहिर करे कॉन्फ्रेंस में शामिल होने वाले को रोकने का अधिकर मिलता है।
 
सूत्रों ने बताया कि जियोमीट ने सबके लिए अपना परिचालन शुरू करने के एक हफ्ते के भीतर ही सुरक्षा से जुड़़े कई फीचर जोड़े हैं। जूम के बारे में मिली खबरों को देखते हुए कंपनी ने एहतियाती कदम उठाए हैं। कंपनी ने कहा कि जियोमीट का अपडेटेड संस्करण अब गूगल प्ले स्टोर और एप्पल के ऐप स्टोर पर उपलब्ध है। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो Coronavirus की चपेट में