सुस्त जेवराती मांग से सोना हुआ सस्ता, चांदी में भी मामूली बढ़त

मंगलवार, 12 मार्च 2019 (16:35 IST)
नई दिल्ली। वैश्विक स्तर पर दोनों कीमती धातुओं में तेजी के बीच स्थानीय स्तर पर सुस्त जेवराती मांग से दिल्ली सर्राफा बाजार में मंगलवार को सोना 100 रुपए लुढ़ककर 33,150 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। वहीं चांदी 50 रुपए चमककर डेढ़ सप्ताह के उच्चतम स्तर 39,580 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई।
 
दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर में आई बड़ी गिरावट से अंतरराष्ट्रीय बाजार में पीली धातु को बल मिला। सोना हाजिर 2.90 डॉलर चमककर 1,295.30 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। अप्रैल का अमेरिकी सोना वायदा भी 4.80 डॉलर की मजबूती के साथ 1,295.90 डॉलर प्रति औंस बोला गया।
 
बाजार विश्लेषकों ने बताया कि यूरोपीय संघ के साथ ब्रेग्जिट पर ब्रिटेन के नए समझौते से पाउंड को मिली मजबूती ने डॉलर को कमजोर किया है जिससे सोना महंगा हुआ है। डॉलर में नरमी से अन्य मुद्राओं वाले देशों के लिए सोने का आयात सस्ता हो जाता है। इससे सोने की मांग बढ़ती है और कीमत में तेजी आती है। विदेशी बाजारों में चांदी हाजिर भी 0.10 डॉलर चमककर 15.37 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गई।
 
स्थानीय बाजार में सोमवार की तेजी के बाद मंगलवार को सोने में नरमी रही। सोना स्टैंडर्ड 100 रुपए लुढ़ककर 7 मार्च के बाद के निचले स्तर 33,150 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतनी ही गिरावट के साथ 32,980 रुपए प्रति दस ग्राम बिका। कारोबारियों ने बताया कि डॉलर की तुलना में रुपए में रही मजबूती से भी सोना सस्ता हुआ है। आठ ग्राम वाली गिन्नी 26,400 रुपए पर स्थिर रही।
 
सोने के विपरीत चांदी में बढ़त रही। चांदी हाजिर 50 रुपए चमककर 2 मार्च के बाद के उच्चतम स्तर 39,580 रुपए प्रति किलोग्राम पर पहुंच गई। हालांकि चांदी वायदा 55 रुपए टूटकर 38,660 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। सिक्का लिवाली और बिकवाली गत दिवस के क्रमश: 80 हजार और 81 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर टिके रहे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख वैगनर के बाउंसर से बांग्लादेश पस्त, न्यूजीलैंड ने जीती टेस्ट सीरीज