कमजोर जेवराती मांग से सोना लुढ़का, चांदी भी टूटी

मंगलवार, 9 अप्रैल 2019 (16:35 IST)
नई दिल्‍ली। वैश्विक स्तर पर दोनों कीमती धातुओं में तेजी के बीच दिल्ली सर्राफा बाजार में आभूषण निर्माताओं द्वारा जेवराती मांग कमजोर पड़ने से सोना 235 रुपए लुढ़ककर 32,980 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। औद्योगिक ग्राहकी कमजोर पड़ने से चांदी 660 रुपए की बड़ी गिरावट के साथ साढ़े तीन महीने के निचले स्तर 38,010 रुपए प्रति किलोग्राम पर रह गई।

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं की तुलना में डॉलर के कमजोर रहने से सोने में तेजी रही। सोना हाजिर 2.18 डॉलर चढ़कर 1,300.25 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। जून का अमेरिकी सोना वायदा 2.50 डॉलर की बढ़त में 1,304.40 डॉलर प्रति औंस बोला गया।

बाजार विश्लेषकों ने बताया कि अमेरिका में विनिर्माण क्षेत्र के कमजोर आंकड़े आने की वजह से डॉलर में नरमी आई है। इससे सोना मजबूत हुआ है। डॉलर के कमजोर पड़ने से अन्य मुद्राओं वाले देशों के लिए सोने का आयात सस्ता हो जाता है। इससे मांग बढ़ती है और कीमत चढ़ती है।

विदेशी बाजारों में चांदी हाजिर 0.02 डॉलर की बढ़त में 15.24 डॉलर प्रति औंस पर रही। स्थानीय बाजार में ग्राहकी उतरने से सोना स्टैंडर्ड 235 रुपए टूटकर 32,980 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतनी ही गिरावट में 32,810 रुपए प्रति दस ग्राम रहा। आठ ग्राम वाली गिन्नी 26,400 रुपए पर टिकी रही।

चांदी की औद्योगिक मांग कमजोर रहने से उसमें बड़ी गिरावट रही। चांदी हाजिर 660 रुपए लुढ़ककर 25 दिसंबर के बाद के निचले स्तर 38,010 रुपए प्रति किलोग्राम के भाव बिकी। भविष्य में ग्राहकी आने की उम्मीद में चांदी वायदा 80 रुपए चढ़कर 37,830 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। सिक्का लिवाली और बिकवाली एक-एक हजार रुपए फिसलकर क्रमश: 79 हजार और 80 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर आ गए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख नर्मदा पुत्र के बाद अब हुए भगवान राम के वंशज दिग्विजय सिंह