Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विरोध के बीच JEE Main 2020 शुरू, कोरोनाकाल में केंद्रों पर बरती गई ये सावधानियां, देखें Photos

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 1 सितम्बर 2020 (19:55 IST)
नई दिल्ली। कोरोनावायरस (Coronavirus) महामारी के मद्देनजर सामाजिक दूरी और सख्त ऐहतियाती कदमों के बीच मंगलवार को इंजीनियरिंग कॉलेजों में दाखिले के लिए संयुक्त प्रवेश परीक्षा (JEE) मेन्स का आयोजन शुरू हुआ।
webdunia
अधिकारी ने कहा कि प्रत्येक पाली की परीक्षा शुरू होने और दूसरी पाली की परीक्षा के बाद सभी सीटों की पूरी तरह से साफ-सफाई की गई और वर्कस्टेशन एवं कीबोर्ड को विषाणु मुक्त बनाया गया।
webdunia
देशभर में विभिन्न परीक्षा केंद्रों में अलग-अलग प्रवेश एवं निकास द्वारों पर सेनेटाइजर की व्यवस्था तथा कतारों में उम्मीदवारों को सामाजिक दूरी बनाए रखते हुए मास्क का वितरण जैसे प्रबंध आमतौर पर देखने को मिले।कोविड-19 के कारण जेईई (मुख्य) प्रवेश परीक्षा इससे पहले दो बार टाली जा चुकी हैं और अब ये 1 से 6 सितंबर के बीच निर्धारित हैं।
webdunia
राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) के एक अधिकारी ने बताया कि परीक्षा केंद्र के प्रवेश द्वार और परीक्षा हॉल के अंदर हैंड सैनिटाइजर हर समय उपलब्ध कराए गए हैं। उम्मीदवारों के प्रवेश पत्र जांचने की स्वभाविक प्रक्रिया से इतर इस बार बारकोड रीडर लगाया गया है जिन्हें परीक्षा केंद्र पर अधिकारियों को उपलब्ध कराया गया है। 
webdunia
उन्होंने कहा कि सभी उम्मीदवारों को परीक्षा केंद्र पर मास्क और सैनिटाइजर के साथ आने को कहा गया है और केंद्र में प्रवेश करने पर उन्हें परीक्षा प्राधिकार द्वारा उपलब्ध कराए गए मास्क का उपयोग करना है। प्रत्येक उम्मीदवार को प्रवेश करने के समय तीन प्लाई मास्क पेश किए जा रहे हैं। परीक्षा की पहली पाली सुबह साढ़े नौ बजे और दूसरी पाली दोपहर 2.30 बजे हुई। 
webdunia
करीब 9 लाख उम्मीदवारों ने आईआईटी, एनआईटी और केंद्र पोषित तकनीकी संस्थानों में इंजीनियरिंग कोर्स में दाखिले के लिये जेईई मुख्य परीक्षा के लिए रजिस्ट्रेशन करवाया है।  ओडिशा, मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ की सरकारों ने उम्मीदवारों को आश्वस्त किया है कि उनके आने-जाने की व्यवस्था की जाएगी।

इसके अतिरिक्त आईआईटी के पूर्व छात्रों और वर्तमान छात्रों ने भी एक पोर्टल शुरू किया है ताकि जरूरतमंद छात्रों को परिवहन सुविधा प्रदान की जा सके। कोविड-19 के प्रसार के कारण जेईई मेन्स और मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट के आयोजन को स्थगित करने की मांग की जा रही थी। इससे पहले सुप्रीम कोर्ट ने परीक्षा स्थगित करने के संबंध में एक याचिका को खारिज कर दिया था और कहा था कि छात्रों के बहुमूल्य वर्ष को बर्बाद नहीं किया जा सकता।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

कोरोनाकाल में स्कूल ले सकेंगे सिर्फ ट्यूशन फीस,जबलपुर हाईकोर्ट का बड़ा आदेश