अश्विन ने किया कमाल, बुमराह की तेज गेंदों से ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज हैरान

शुक्रवार, 7 दिसंबर 2018 (14:00 IST)
एडिलेड। ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की अगुवाई में गेंदबाज़ों के शानदार प्रदर्शन की बदौलत भारत ने पहले क्रिकेट टेस्ट के दूसरे दिन यहां एडिलेड ओवल में शुक्रवार को ऑस्ट्रेलिया की पहली पारी में 191 रनों पर सात विकेट उखाड़कर मेज़बान टीम को पस्त कर दिया।
 
भारतीय क्रिकेट टीम ने पहली पारी में 88 ओवर में 250 रन बनाए। सुबह टीम का शेष एकमात्र विकेट मोहम्मद शमी के रूप में गिरा जो दिन की पहली ही गेंद पर गुरुवार के अपने स्कोर (06 रन) पर जोश हेजलवुड का शिकार बने। इसके बाद मैदान पर उतरी ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ों को भी चुनौतीपूर्ण एडिलेड ओवल की पिच पर खास मदद नहीं मिली और दिन की समाप्ति तक 88 ओवर में 191 रन जोड़कर उसने अपने सात विकेट गंवा दिए। 
 
ऑस्ट्रेलिया अभी भारत के स्कोर से 59 रन पीछे है और उसके तीन विकेट शेष हैं। बल्लेबाज़ ट्रेविस हैड 61 रन और मिशेल स्टार्क 8 रन बनाकर क्रीज़ पर हैं। पहले दिन ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज़ों की तरह दूसरे दिन भारतीय गेंदबाज़ मैदान पर हावी दिखे जिसमें सबसे सफल अनुभवी अश्विन रहे, जिन्होंने 33 ओवर में 1.51 के बेहतरीन इकोनॉमी रेट से 50 रन देकर तीन विकेट निकाले। तेज़ गेंदबाज़ ईशांत शर्मा को 15 ओवर में 31 रन और जसप्रीत बुमराह को 34 रन पर दो-दो विकेट हाथ लगे।
 
भारतीय बल्लेबाज़ों खासकर ओपनिंग क्रम की तरह ऑस्ट्रेलियाई टीम के बल्लेबाज़ों की भी हालत दिखी, जिन्हें मैच में शुरुआत से काफी संघर्ष करते देखा गया और टीम के स्टार ओपनर आरोन फिंच तीन गेंदों बाद ही खाता खोले बिना ईशांत की गेंद पर बोल्ड हो गए। मार्कस हैरिस और उस्मान ख्वाजा ने फिर दूसरे विकेट के लिए 45 रन जोड़े, लेकिन इस साझेदारी को अश्विन ने तोड़ते हुए हैरिस को मुरली विजय के हाथों कैच करा दिया।
 
हैरिस ने 57 गेंदों में तीन चौके लगाकर 26 रन बनाए, लेकिन दूसरे छोर पर विकेट गिरते रहे और शॉन मार्श 19 गेंदों में मात्र दो रन बनाकर अश्विन की गेंद पर बोल्ड हो गए। ऑस्ट्रेलिया ने 59 रन पर अपने तीन अहम विकेट गंवा दिए। उस्मान ख्वाजा ने 125 गेंदें खेलकर देर तक टिकने का जज्बा दिखाया, लेकिन वह पारी में केवल 28 रन बना पाए और अश्विन ने उन्हें विकेटकीपर रिषभ पंत के हाथों कैच कराकर मैच में अपना तीसरा विकेट हासिल कर लिया।
 
मध्यक्रम में पीटर हैंड्सकोंब और हेड ने मिलकर पांचवें विकेट के लिए 33 रन की साझेदारी खेली और बोर्ड पर कुछ रन जोड़ने का प्रयास किया। भारतीय गेंदबाज़ों ने काफी कंजूसी से रन दिए जिसके कारण ऑस्ट्रेलियाई बल्लेबाज़ लगातार रनों के लिए जूझते दिखे। हैंड्सकोंब ने 93 गेंदों की पारी में पांच चौके लगाकर 34 रन बनाए लेकिन 58वें ओवर में तेज़ गेंदबाज़ बुमराह ने उन्हें पंत के हाथों कैच करा ऑस्ट्रेलिया का पांचवां विकेट निकाल दिया।
 
ऑस्ट्रेलिया ने 120 रन पर अपने पांच विकेट गंवा दिए। कप्तान टिम पेन भी सस्ते में आउट हुए और 20 गेंदों में एक चौका लगाकर केवल पांच रन बना सके। ऑस्ट्रेलिया में अच्छा अनुभव रखने वाले ईशांत ने पंत के हाथों कैच कराकर पेन को सस्ते में पैवेलियन भेज दिया। 
 
हालांकि हेड ने जुझारू पारी खेलते हुए 149 गेंदों में छह चौकों की मदद से 61 रन बनाए और एक छोर संभाले रखा। पैट कमिंस दिन के आखिरी और ऑस्ट्रेलिया के सातवें बल्लेबाज़ के रूप में आउट हुए। उन्हें भी अपने 10 रन तक पहुंचने के लिए 47 गेंदों का सामना करना पड़ा। लेकिन उन्होंने हेड के साथ सातवें विकेट के लिए 50 रन की उपयोगी अर्धशतकीय साझेदारी खेलकर टीम को कुछ संभाला।
 
तेज़ गेंदबाज़ बुमराह ने कमिंस को आउट कर अपना दूसरा विकेट निकाला। हेड ने मुश्किल परिस्थिति के बावजूद करियर के तीसरे टेस्ट में अपना दूसरा और महत्वपूर्ण अर्धशतक पूरा किया। दूसरे दिन ऑस्ट्रेलिया की पारी में एकमात्र अर्धशतकधारी हेड ने 103 गेंदों में पांच चौके लगाकर अपने 50 रन पूरे किए। फिलहाल उनके साथ दूसरे छोर पर स्टार्क आठ रन पर नाबाद हैं।
 
इससे पहले सुबह भारत ने अपनी पहली पारी की शुरुआत कल के 250 रन पर नौ विकेट से आगे बढ़ाई। उस समय बल्लेबाज़ मोहम्मद शमी 6 रन पर नाबाद थे। शमी हेजलवुड की पहली गेंद पर टिम पेन को कैच दे बैठे और भारतीय पारी 250 रन पर सिमट गई। 
 
ऑस्ट्रेलिया के लिए तेज़ गेंदबाज़ हेज़लवुड को 20 ओवर की गेंदबाज़ी में 52 रन पर तीन विकेट मिले। स्टार्क ने 63 रन, कमिंस ने 49 रन और नाथन लियोन ने 83 रन देकर दो-दो विकेट लिए। (वार्ता)
 

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

LOADING