Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

'बेदाग कप्तान तो 15 सालों तक नहीं मिलेगा', टेस्ट कप्तान ढूंढ रही क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया पर क्लार्क ने दिया मजेदार बयान

webdunia
बुधवार, 24 नवंबर 2021 (15:04 IST)
मेलबर्न:ऑस्ट्रेलिया के पूर्व कप्तान माइकल क्लार्क का मानना है कि अगर देश के क्रिकेट प्रशासक कप्तान नियुक्त करने के लिये किसी ऐसे खिलाड़ी की तलाश में है जिसका रिकॉर्ड बेदाग हो तो फिर ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट टीम अगले 15 साल तक बिना कप्तान के रहेगी।

टिम पेन ने अपनी सहकर्मी को आपत्तिजनक संदेश भेजने का खुलासा होने के बाद कप्तान पद छोड़ दिया था जिसके बाद क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) को नये कप्तान की तलाश है।

तेज गेंदबाज पैट कमिन्स कप्तान बनने की दौड़ में सबसे आगे हैं। उनके अलावा पूर्व कप्तान स्टीव स्मिथ भी दौड़ में हैं। क्लार्क ने कहा कि रिकी पोंटिंग भी अपने करियर की गलत शुरुआत के बाद आस्ट्रेलिया के सर्वश्रेष्ठ कप्तानों में से एक बने थे।

उन्होंने ‘बिग स्पोर्ट्स ब्रेकफास्ट’ में कहा, ‘‘मेरे समय में यहां तक कि रिकी पोंटिंग बेहतरीन कप्तान रहे हैं। यदि ऐसा मामला होता तो वह कभी आस्ट्रेलिया की कप्तानी नहीं कर पाते।’’

क्लार्क ने कहा, ‘‘उनका बोरबोन एंड बीफस्टीक (नाइटक्लब) में झगड़ा हुआ। वहां घूंसे चले थे। क्या इस कारण आप उन्हें जिम्मेदारी नहीं सौंपते। वह शानदार उदाहरण हैं। उन्होंने आपको दिखाया है कि कैसे समय, अनुभव, परिपक्वता, उच्च स्तर पर खेलना और यहां तक कि कप्तानी भी उनमें बदलाव लेकर आयी।’’
webdunia

क्लार्क ने स्वीकार किया कि ऑस्ट्रेलियाई टेस्ट कप्तान को उच्च मानदंड स्थापित करने की जरूरत होती है लेकिन यदि उससे गैरजरूरी उम्मीदें रखी जाती हैं तो फिर बहुत कम विकल्प बचेंगे।

उन्होंने कहा, ‘‘बेशक, आपको कुछ मानकों को बनाये रखना होगा, लेकिन क्या आप यह कहने जा रहे हैं कि 'वह बदल सकता है, वह परिपक्व हो सकता है। खिलाड़ियों का समर्थन कहां है? (यदि आप बेदाग कप्तान चाहते हैं) आप 15 साल तक कप्तान की तलाश करोगे। हमारे पास कप्तान नहीं होगा।’’
webdunia

क्लार्क ने कहा कि वह इस बात को लेकर उलझन में हैं कि पेन ने 2017 की घटना को लेकर अपना पद क्यों छोड़ा।
उन्होंने कहा, ‘‘यह बात मेरी समझ में नहीं आयी। यदि क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने उससे कहा कि कोई विकल्प नहीं हैं तो उसे कहना चाहिए था कि आप मुझे बर्खास्त कर सकते हैं क्योंकि मैंने चार साल पहले ही आपको यह जानकारी दे दी थी। मैं ईमानदार था और मुझे पाक साफ करार दिया गया था।’’(भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

ICC टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में दो बार कोहली को आउट करने वाले इस गेंदबाज को शायद ही मिले कानपुर टेस्ट में जगह