रमजान में रोजे रखने से हो जाता है मानसिक व्यायाम : हाशिम अमला

सोमवार, 27 मई 2019 (11:41 IST)
लंदन। दक्षिण अफ्रीका के बल्लेबाज हाशिम अमला ने रमजान के दौरान विश्व कप पड़ने पर खुशी जताते हुए कहा कि रोजे रखने से अच्छी मानसिक और आध्यात्मिक कसरत हो जाती है। अमला ने आईसीसी की वेबसाइट पर कहा, इससे मुझे अनुकूलन में मदद मिलती है।

उन्होंने कहा, मैं हमेशा से रोजे रखता रहा हूं। यह साल का सबसे अच्छा महीना है। मुझे लगता है कि इससे अच्छी मानसिक और आध्यात्मिक कसरत हो जाती है।

अमला 2012 में भी रमजान के दौरान इंग्लैंड में थे जब टेस्ट क्रिकेट में उन्होंने दक्षिण अफ्रीका के लिए सर्वाधिक टेस्ट रन बनाने का रिकॉर्ड अपने नाम किया।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पूर्व कप्तान श्रीकांत बोले- 1983 विश्व कप जीत का नहीं सोचा था, कपिल के आत्‍मविश्‍वास का टीम पर पड़ा था असर