Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia

BCCI ने बनाए सख्त नियम, उम्र संबंधी धोखाधड़ी करने पर 2 साल का Ban

webdunia
सोमवार, 3 अगस्त 2020 (19:06 IST)
मुंबई। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने क्रिकेट में उम्र और डोमिसाइल में धोखाधड़ी करने के खिलाफ कड़ा कदम उठाया है, जिसके तहत अगर कोई खिलाड़ी अपनी उम्र छिपाकर खेलता है तो उस पर 2 साल का प्रतिबंध लगाया जाएगा।
 
उम्र और डोमिसाइल की धोखाधड़ी को रोकने के लिए बीसीसीआई ने 2020-21 सत्र के लिए कुछ नए और कड़े नियम बनाए हैं। इस नियम के तहत पहले से पंजीकृत खिलाड़ियों के लिए स्वैच्छिक प्रकटीकरण योजना तैयार की गई है।
 
इस योजना के अंतर्गत जो भी खिलाड़ी इस समय अपनी उम्र छिपाकर गलत उम्र वर्ग के साथ खेल रहे हैं और अगर वो सामने आकर इस बात को स्वीकार करते हैं और अपना सही जन्म प्रमाण-पत्र दिखाते हैं तो उन्हें माफ़ी देकर उनके ग्रुप में डाल दिया जाएगा।
 
इसके लिए खिलाड़ियों को एक पत्र लिखकर उसमें हस्ताक्षर कर भेजना होगा या बीसीसीआई उम्र वैरिफिकेशन विभाग को ई-मेल भेजना होगा। इसकी अंतिम तारीख इस साल 15 सितंबर है।
 
हालांकि अगर खिलाड़ी इस बीच अपना सही उम्र प्रमाण पत्र जारी नहीं करते हैं और उनके जन्म प्रमाण-पत्र गलत पाए जाते हैं तो बीसीसीआई कार्रवाई करते हुए उस खिलाड़ी पर 2 साल का प्रतिबंध लगाएगा। इसके अलावा प्रतिबंध खत्म होने पर वो खिलाड़ी बीसीसीआई के ग्रुप वर्ग और राज्य के टूर्नामेंट में भी नहीं भाग ले पाएगा।
 
2020-21 सत्र के बाद बीसीसीआई और राज्य इकाइयों में किसी भी क्रिकेट मैच के लिए फर्जी जन्म प्रमाण-पत्र देने वाले किसी भी खिलाड़ी पर 2 साल का प्रतिबंध लगाया जाएगा जबकि निलंबन पूरा होने के बाद ऐसे खिलाड़ियों को बीसीसीआई के आयु समूह टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति नहीं दी जाएगी। इसके साथ ही राज्य इकाइयों द्वारा आयोजित आयु समूह टूर्नामेंट भी यह खिलाड़ी भाग नहीं ले सकेंगे।
 
इन खिलाड़ियों के अलावा कोई भी सीनियर पुरुष या महिला खिलाड़ी डोमिसाइल धोखाधड़ी में संलिप्त पाए जाते हैं तो उन पर 2 साल का प्रतिबंध लगाया जाएगा। स्वैच्छिक प्रकटीकरण योजना हालांकि डोमिसाइल धोखाधड़ी में लागू नहीं होगी।
 
बीसीसीआई अंडर-16 आयु वर्ग ग्रुप टूर्नामेंट के लिए सिर्फ उन खिलाड़ियों को पंजीकृत किया जाएगा, जिनकी उम्र 14 से 16 वर्ष की है। अंडर-19 आयु ग्रुप में अगर कोई खिलाड़ी अपना पंजीकरण अपने जन्म के दो साल या उससे ज्यादा के बाद कराता है जैसा उनके जन्म प्रमाण पत्र में दर्ज होगा तो बीसीसीआई अंडर-19 टूर्नामेंट में भाग लेने की अनुमति दी गई वर्ष की संख्या पर प्रतिबंध रहेगा।
 
इसके लिए बीसीसीआई ने एक हेल्पलाइन नंबर जारी किया है जो 24X7 खुला रहेगा। कोई व्यक्ति 9820556566/9136694499 नंबर पर फोन कर इसकी शिकायत कर सकता है।
 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

UAE में IPL के आयोजन को भारत सरकार की मंजूरी, प्रायोजकों में शामिल रहेंगी चीनी कंपनियां