IndVsAus : मेलबोर्न में जीत के साथ भारत ने बनाए ये रिकॉर्ड

रविवार, 30 दिसंबर 2018 (10:51 IST)
नई दिल्ली। भारत रविवार को मेलबोर्न में तीसरे क्रिकेट टेस्ट के 5वें और अंतिम दिन ऑस्ट्रेलिया को 137 रन से हराकर टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में 150 या इससे अधिक जीत दर्ज करने वाला दुनिया का 5वां देश बना।

तेज गेंदबाज ईशांत शर्मा ने नाथन लियोन को विकेटकीपर ऋषभ पंत के हाथों कैच कराके भारत को जीत दिलाई। पंत का मौजूदा श्रृंखला में यह 20वां शिकार था और वे किसी एक श्रृंखला में सबसे अधिक शिकार करने वाले भारतीय विकेटकीपर बने।
 
 
भारत ने अपने 532वें टेस्ट में 150वीं जीत दर्ज की। भारत के अलावा ऑस्ट्रेलिया (384), इंग्लैंड (364), विंडीज (171) और दक्षिण अफ्रीका (162) ये उपलब्धि हासिल कर चुके हैं। ऑस्ट्रेलिया की यह टेस्ट क्रिकेट में 222वीं हार है और उससे अधिक हार सिर्फ इंग्लैंड (298) के नाम पर दर्ज हैं।
 
विराट कोहली ने भारतीय कप्तान के रूप में 45वें मैच में टीम की अगुआई करते हुए 26वीं जीत दर्ज की। भारतीय कप्तान के रूप में उनके अधिक जीत अब सिर्फ महेंद्रसिंह धोनी के नाम पर दर्ज हैं जिनकी अगुआई में भारत ने 60 टेस्ट खेले और इनमें से टीम 27 मैचों में जीत दर्ज करने में सफल रही।
 
कोहली की कप्तानी में विदेशी सरजमीं पर यह भारत की 11वीं जीत है। इस जीत के साथ कोहली ने सौरव गांगुली के रिकॉर्ड की बराबरी कर ली जिनकी अगुआई में भारत ने विदेशी सरजमीं पर इससे पहले सर्वाधिक 11 टेस्ट जीते थे।
 
गांगुली की अगुआई में भारत ने कुल 49 टेस्ट खेले और इनमें से टीम 21 में जीत दर्ज करने में सफल रही। पंत ने 4 मैचों की श्रृंखला के 3 मैचों में ही 20 शिकार बना लिए हैं जिससे वे किसी एक टेस्ट श्रृंखला में भारत के सबसे सफल विकेटकीपर बने।
 
पंत ने नरेन तम्हाने और सैयद किरमानी का रिकॉर्ड तोड़ा। इन दोनों के ही नाम पर किसी श्रृंखला में सर्वाधिक 19-19 विकेट दर्ज थे। तम्हाने ने पाकिस्तान के खिलाफ 1954-55 में 5 मैचों की श्रृंखला जबकि किरमानी ने भी पाकिस्तान के खिलाफ ही 1979-80 में 6 मैचों की श्रृंखला के दौरान यह उपलब्धि हासिल की थी।
 
जसप्रीत बुमराह ने दूसरी पारी में 53 रन पर 3 विकेट जबकि मैच में 86 रन देकर 9 विकेट चटकाए। पदापर्ण टेस्ट सत्र में बुमराह के नाम पर अब 48 विकेट दर्ज हैं जो किसी तेज गेंदबाज का अपने पहले टेस्ट सत्र में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन है।
 
बुमराह, मोहम्मद शमी और ईशांत शर्मा की तेज गेंदबाजी तिकड़ी ने पिछले एक साल में विदेशों में भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई है। इन तीनों ने मिलकर एक कैलेंडर वर्ष में विदेशी सरजमीं पर 134 विकेट (बुमराह 48, ईशांत 40 और शमी 46) चटकाए। इस तिकड़ी ने मेलकम मार्शल, माइकल होल्डिंग और जोएल गार्नर की विंडीज की तिकड़ी का 34 साल पुराना रिकॉर्ड तोड़ा जिन्होंने 1984 में विदेशी दौरों पर 130 विकेट चटकाए थे। (भाषा)

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख 40 साल बाद किसी टेस्ट सीरीज में टीम इंडिया ने जीते 2 टेस्ट