Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

पुजारा के नाबाद शतक से भारत ने पहली पारी में 27 रन की बढ़त बनाई

हमें फॉलो करें webdunia
शुक्रवार, 31 अगस्त 2018 (23:02 IST)
साउथेम्पटन। चेतेश्वर पुजारा के नाबाद शतक (132) के बलबूते भारत ने चौथे टेस्ट मैच के दूसरे दिन इंग्लैंड पर पहली पारी में 27 रनों की बढ़त प्राप्त कर ली। भारत की पहली पारी 84.5 ओवर में 273 रनों पर सिमटी। मोईन अली ने 5 और स्टुअर्ट ब्रॉड ने 3 विकेट लिए। इंग्लैंड ने पहली पारी में 246 रन बनाए थे जबकि दूसरी पारी में दिन का खेल समाप्त होने तक 4 ओवर में बिना किसी नुकसान के 6 रन बना लिए थे। जेनिंग्स 4 और एलेस्टेयर कुक 2 रन नाबाद रहे।
 
भारत ने शुक्रवार की सुबह अपने गुरुवार के स्कोर बिना कोई विकेट खोए 21 रन से आगे खेलना प्रारंभ किया। भारत की शुरुआत अच्छी नहीं रही और लोकेश राहुल 23 रन के निजी स्कोर पर स्टुअर्ट ब्रॉड द्वारा पगबाधा आउट करार दिए गए। भारत ने पहला विकेट 7.2 ओवरों में 37 रन के स्कोर पर गंवाया।
 
इंग्लैड के तेज गेंदबाज स्टुअर्ट ब्रॉड ने दूसरी सफलता तब हासिल की, जब उन्होंने भारत के दूसरे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन को 28 रन के निजी स्कोर पर पगबाधा आउट कर दिया। तब भारत का स्कोर 17.5 ओवरों में 50 रन पर पहुंचा था। खेल के पहले सत्र में 2 विकेट खोने के बाद विराट कोहली और चेतेश्वर पुजारा ने लंच तक अपने विकेट सुरक्षित रखते हुए स्कोर को 31 ओवरों में 100 पर पहुंचा दिया।
 
भारत का तीसरा विकेट कप्तान विराट कोहली के रूप में 142 रनों के कुल स्कोर पर पैवेलियन लौटा। 46 रन बनाने वाले विराट कोहली को सैम कुरैन की गेंद पर एलेस्टेयर कुक ने लपका। चेतेश्वर पुजारा और विराट कोहली के बीच तीसरे विकेट की भागीदारी में 92 रन जोड़े गए।
 
विराट के बाद भारत ने चौथा विकेट अजिंक्य रहाणे का गंवाया। बेन स्टोक्स ने रहाणे (11) को पगबाधा आउट किया। हालांकि रिप्ले में साफ दिखाई दे रहा था कि स्टोक्स की गेंद नोबॉल है, इसके बाद भी रहाणे को तीसरे अंपायर ने आउट दे दिया।
 
भारत का स्कोर जब 56.4 ओवरों में 181 रनों पर पहुंचा, तब मोईन अली ने ऋषभ पंत को पगबाधा आउट कर दिया। ऋषभ 30 गेंदों का सामना करने के बाद भी खाता खोलने में नाकाम रहे। मोईन अली ने भारत को 61वें ओवरों में लगातार 2 झटके दिए। मोईन ने पहले अश्विन को 1 रन पर बोल्ड कर दिया जबकि अगली गेंद पर मोहम्मद शमी के डंडे उड़ा दिए। इस तरह भारत ने 61 ओवरों में 195 रनों पर 8 विकेट गंवा दिए थे। एक समय भारत का स्कोर 2 विकेट खोकर 142 रन था लेकिन 53 रनों के भीतर उसने 6 विकेट खोए।
 
ईशांत शर्मा (14) को मोईन अली ने एलेस्टेयर कुक के हाथों कैच करवाकर भारत का नौवां विकेट पैवेलियन भेजा। 71 ओवरों में भारत का स्कोर 9 विकेट खोकर 227 रन था। मोईन ने इस पारी में अपना 5वां विकेट हासिल किया।
 
भारत का अंतिम विकेट 273 के स्कोर पर जसप्रीत बुमराह (6) का गिरा। बुमराह को ब्रॉड की गेंद पर एलेस्टेयर कुक ने लपका। अंतिम विकेट के लिए पुजारा और बुमराह के बीच 46 रनों की भागीदारी निभाई गई जिससे भारत 27 रनों की बढ़त लेने में कामयाब रहा। पुजारा 132 रनों पर नाबाद रहे। उन्होंने 257 गेंदों का सामना किया जिसमें 16 चौके शामिल थे। टेस्ट करियर में पुजारा का यह 15वां शतक है।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

20 साल बाद भारतीय महिला हॉकी टीम ने एशियाड में जीता रजत पदक, फाइनल में जापान ने 2-1 से हराया