Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Omicron के कारण स्टेडियम में दर्शकों की 'नो एंट्री', मेजबान के लिए झटका

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 21 दिसंबर 2021 (12:34 IST)
जोहान्सबर्ग:दक्षिण अफ्रीका दौरा शुरु होने के साथ ही मेजबान टीम के लिए एक और बुरी खबर सामने आ गई है। भारत का दक्षिण अफ्रीका दौरा बिना दर्शकों की मौजूदगी में खेला जाएगा। एक तरह से यह मेजबान टीम के लिए बुरी खबर ही है क्योंकि दर्शकों का समर्थन भी इस बदलाव के दौर से गुजर रही टीम के साथ नहीं रहेगा।

दक्षिण अफ्रीका में कोरोना के ओमीक्रॉन स्वरूप के प्रकोप के कारण भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जाने वाली द्विपक्षीय श्रृंखलाएं, जिसमें तीन टेस्ट और तीन वनडे मैच शामिल हैं, दर्शकों की गैर मौजूदगी में आयोजित होंगी। इससे पहले यह अंदेशा जताया जा रहा था कि पहला (बॉक्सिंग डे) टेस्ट बिना दर्शकों के होगा लेकिन अब पूरा दौरा ही बिना दर्शकों की मौजूदगी में होगा।

क्रिकेट दक्षिण अफ्रीका ने सोमवार को इसकी पुष्टि करते हुए कहा, “ आगामी दक्षिण अफ्रीका और भारत दौरे के लिए टिकट उपलब्ध नहीं कराए जाएंगे। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) और हमने खिलाड़ियों की सुरक्षा, क्रिकेट प्रशंसकों और अन्य हितधारकों के हितों के मद्देनजर यह संयुक्त निर्णय लिया है। हमें अफसोस के साथ क्रिकेट प्रशंसकों को सूचित करना चाहते हैं कि दुनिया भर में बढ़ते कोरोना संक्रमण के ​​मामलों और स्थानीय स्तर पर चौथी लहर के कारण दोनों क्रिकेट निकायों ने खिलाड़ियों की सुरक्षा के लिए दौरे को बंद दरवाजाें के पीछे आयोजित करने का निर्णय लिया है। यह निर्णय किसी भी उल्लंघन से बचने के लिए लिया गया है। ”

दक्षिण अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने कहा, “ इस स्तर पर हम सभी क्रिकेट प्रशंसकों को याद दिलाना चाहेंगे कि घोषणा के अनुसार दौरे के सभी मैच सुपरस्पोर्ट और एसएबीसी प्लेटफॉर्म पर प्रसारित किए जाएंगे। इसके अलावा क्रिकेट की पहुंच और बढ़ाने के लिए चल रहे प्रयासों के हिस्से के रूप में हम अन्य वैकल्पिक सार्वजनिक दृश्य गतिविधियों की खोज कर रहे हैं जिससे यह सुनिश्चित होगा कि सीमित संख्या में प्रशंसक सक्रिय साइटों के माध्यम से अन्य प्रशंसकों के साथ ग्रीष्मकालीन क्रिकेट के माहौल का आनंद लेने में सक्षम हाें। संबंधित मंजूरी मिलते ही हम उपलब्ध वैकल्पिक सार्वजनिक दृश्य सक्रिय साइटों की घोषणा करेंगे। ”

सीएसए के कार्यवाहक मुख्य कार्यकारी अधिकारी फोलेत्सी मोसेकी ने इस बारे में कहा, “ हम प्रशंसकों और अन्य हितधारकों द्वारा स्टेडियम में लौटने में सक्षम होने पर दिखाई गई रुचि का सम्मान करते हैं और सभी क्रिकेट प्रशंसकों को आश्वस्त करना चाहते हैं कि यह निर्णय ऐसे ही नहीं लिया गया है, बल्कि खेल और सभी संरक्षकों के स्वास्थ्य तथा सुरक्षा के सर्वोत्तम हित में लिया गया है। नतीजतन हम सभी खेल प्रेमियों से इस असाधारण समय के दौरान अच्छे तरीके से अपना ध्यान रखने का आग्रह करते हैं। मैं साथ ही साथ सभी दक्षिण अफ्रीकी नागरिकों से टीकाकरण के सकारात्मक संदेशों का प्रसार जारी रखने का आग्रह करना चाहता हूं, क्योंकि इस समय यही एकमात्र तरीका है, जिससे हम अपने देश को उसकी उच्च आर्थिक गतिविधि में वापस ला सकते हैं, जो सरकार को अर्थव्यवस्था और उसके सभी प्रकार की आर्थिक गतिविधियों को खोलने में सहायता करेगा, जिसमें बड़ी संख्या में प्रशंसकों को स्टेडियम में वापस जाने की अनुमति देना शामिल है। ”

दक्षिण अफ़्रीका और भारत के बीच होने वाली ये सीरीज़ बायो-बबल के अंदर खेली जाएगी, हालांकि क्रिकेट साउथ अफ़्रीका (सीएसए) ने प्रोटोकॉल में कुछ ढील देने का फ़ैसला किया था, लेकिन साउथ अफ़्रीका में इस समय कोविड का नया वैरिएंट सक्रिय है जिस वजह से सीरीज़ को बायो-बबल में कराए जाने का निर्णय लिया गया है।

भारत और दक्षिण अफ़्रीका के बीच होने वाली आगामी सीरीज़ में अगर कोई व्यक्ति कोरोना पॉज़िटिव पाया जाता है तो लक्षण गंभीर नहीं होने तक उसे बायो-बबल से बाहर ना जाते हुए अपने कमरे में ही क्वारंटीन रहना होगा।
webdunia

साथ ही उसके तत्काल संपर्क में आए लोगों को आइसोलेट करने की कोई आवश्यकता नहीं होगी। यह मेहमान टीम के जोहानसबर्ग पहुंचने से पहले क्रिकेट साउथ अफ़्रीका (सीएसए) द्वारा बनाए गए बायो-बबल के सख़्त नियमों का हिस्सा हैं।

दक्षिण अफ़्रीका के गॉटेंग प्रांत में नवंबर महीने में यह ओमिक्रॉन वेरियंट सामने आया था। स्थानीय चिकित्सा अधिकारियों ने विश्व स्वास्थ्य संगठन और अन्य देशों को इसकी जानकारी दी। सभी को कड़ी चेतावनी देते हुए विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा था कि यह बहुत जोखिम भरा हो सकता है और इसके संक्रमण में बढोतरी हो सकती है। इन सबके बावजूद भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने इस दौरे को जारी रखने का फ़ैसला किया।

दक्षिण अफ्रीका की अब तक की सबसे कमजोर टीम से भिड़ेगी टीम इंडिया

क्रिकेट विशेषज्ञों के मुताबिक यह दक्षिण अफ्रीका की भारत के खिलाफ सबसे कमजोर टीम मानी जा रही है। इस टीम में विश्वसनीयता और लय की कमी दिख रही है। टीम के बड़े नाम टेस्ट क्रिकेट को अलविदा कह चुके हैं। वहीं बल्लेबाजी में एकमात्र विश्वसनीय नाम क्विंटन डि कॉक का भी एक से कम एक टेस्ट ना खेलना पक्का हो गया है। यही कारण है कि यह दक्षिण अफ्रीका दौरा भारत का सबसे बेहतर मौका माना जा रहा है।

उल्लेखनीय है कि दक्षिण अफ्रीका और भारत के बीच पहला टेस्ट सेंचुरियन में 26 से 30 दिसंबर तक खेला जाएगा, जबकि अगले दो मैच तीन से सात जनवरी और 11 से 15 जनवरी के बीच क्रमश: जोहान्सबर्ग और केप टाउन में खेले जाएंगे। टेस्ट सीरीज की समाप्ति के बाद पार्ल में 19 जनवरी से वनडे सीरीज शुरू होगी। 21 जनवरी को दूसरा मैच भी यहीं पर खेला जाएगा, जबकि तीसरी और अंतिम मैच 23 जनवरी को केप टाउन में होगा।
webdunia

दक्षिण अफ्रीका की 21 सदस्यीय टीम :डीन एल्गर (कप्तान), तेम्बा बावुमा (उप कप्तान), क्विंटन डी कॉक (विकेटकीपर), कैगिसो रबादा, सरेल इरवी, बेउरन हेंड्रिक्स, जॉर्ज लिंडे, केशव महाराज, लुंगी एनगिदी, एडेन मार्करम, वियान मल्डर, एनरिक नॉर्त्जे, कीगन पीटरसन, रैसी वैन डर डुसेन, काइल वेरेन, मार्को जेन्सन, ग्लेनटन स्टरमैन, प्रेनेलन सुब्रेयन, सिसांदा मगला, रयान रिकेल्टन, डुआने ओलिवियर।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पाक स्पिनर ने की रेप में दोस्त की मदद, लड़की ने मदद मांगी तो हंसने लगे!