Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

9 गगनचुंबी छक्के मैदान के बाहर भेजकर बटलर ने बोर्ड को ऐसे लगाया 1 लाख रुपए का चूना

हमें फॉलो करें webdunia
शनिवार, 18 जून 2022 (13:13 IST)
इंग्लैंड बनाम नीदरलैंड के मैच में कई बड़े रिकॉर्ड्स बने लेकिन एक दिलचस्प बात कुकुबुरा की वेबसाइट पर देखने को मिली। अपनी शतकीय पारी के दौरान जोस बटलर ने 9 गगनचुंबी छक्के मारे जो कि मैदान पर वापस नहीं आ सके।

ऐसे में उन्होंने अपने बोर्ड का काफी नुकसान किया क्योंकि एक कुकुबुरा गेंद 120 पाउंड की आती है, जिसकी कीमत भारतीय रुपए में नापे तो लगभग 12 हजार रुपए होती है। बटलर ऐसी 9 गेंदें कल मैदान के बाहर पहुंचा चुके थे।

अगर इन 9 गेंदो की कुल कीमत को जोड़ा जाए तो राशि करीब 1500 पाउंड तक होती है। ऐसे में अगर इसे भारतीय रुपए में रुपांतरित करते हैं तो यह करीब 1 लाख रुपए बन जाती है। इस कारण यह कहा जा सकता है कि बटलर ने कल अपने बोर्ड का 1 लाख रुपए का नुकसान करवाया है।
गौरतलब है कि इंग्लैंड ने शुक्रवार को नीदरलैंड के खिलाफ चार विकेट पर 498 रन बनाकर एक दिवसीय अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट इतिहास में अपने ही सर्वाधिक स्कोर का रिकॉर्ड तोड़ दिया।

इंग्लैंड ने इस तरह जून 2018 में ट्रेंट ब्रिज पर आस्ट्रेलिया के खिलाफ छह विकेट पर 481 रन के रिकॉर्ड को पीछे छोड़ा।जोस बटलर, डेविड मलान और फिल सॉल्ट ने एम्सटरडम के बाहर एम्स्टेलवीन में शतक जड़े।

बटलर ने 47 गेंद में शतक जमाया जो इंग्लैंड के लिये दूसरा सबसे तेज शतक था। उन्होंने 162 रन की नाबाद पारी खेली जिसमें टीम के 26 में से 14 छक्के जड़े थे।बटलर के नाम अब राष्ट्रीय टीम के लिये तीन सबसे तेज वनडे शतक हो गये हैं, उन्होंने 46 गेंद, 47 गेंद और 50 गेंद में सैकड़े बनाये हैं।
सॉल्ट ने 93 गेंद में 122 रन और मलान ने 109 गेंद में 125 रन बनाये जबकि लियाम लिविंगस्टोन ने 22 गेंद में नाबाद 66 रन की पारी खेली।

नीदरलैंड पहली बार क्रिकेट विश्व कप के बाहर इंग्लैंड के खिलाफ वनडे खेल रहा है।शेन स्नाटर ने इंग्लैंड को एक रन पर पहला झटका दिया और पीटर सीलार ने लगातार गेंदों पर दो विकेट झटके जिसमें कप्तान इयोन मोर्गन का शून्य पर आउट होना शामिल था।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

16 साल पहले दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ ही कार्तिक का हुआ था टी-20 टेब्यू, आज जड़ा पहला पचास