Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

सेंचुरियन राहुल और शानदार शमी, यह खिलाड़ी रहे भारत की जीत के नायक

हमें फॉलो करें webdunia
गुरुवार, 30 दिसंबर 2021 (19:20 IST)
जसप्रीत बुमराह, मोहम्मद शमी और मोहम्मद सिराज की तेज गेंदबाजी तिकड़ी ने फिर से अपना जलवा दिखाया जिससे भारत ने दक्षिण अफ्रीका को पहले टेस्ट क्रिकेट मैच के पांचवें दिन गुरुवार को 113 रन से हराकर तीन मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढ़त बनायी। भारत की तरफ से पहली पारी में शतक जड़ने वाले केएल राहुल को मैन ऑफ द मैच चुना गया।

भारत ने यह जीत एक तरह से साढ़े तीन दिन में हासिल की क्योंकि मैच का दूसरा दिन बारिश की भेंट चढ़ गया था। भारतीय तेज गेंदबाजी की तिकड़ी बुमराह, शमी और सिराज के सामने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाज असहाय नजर आये।

भारतीय तेज गेंदबाजों के कहर का अंदाजा इस ही बात से लगाया जा सकता है कि दक्षिण अफ्रीका एक बार भी अपने घरेलू मैदान पर 200 का आंकड़ा नहीं छू सकी। यही नहीं वह दोनों पारियों में बमुशकिल 2 सत्र बल्लेबाजी कर पायी।

सेंचुरियन पर अगर आज भारत अपनी पहली टेस्ट जीत दर्ज कर पाया है। तो उसकी दो वजह है घातक तेज गेंदबाजी और केएल राहुल की सलामी बल्लेबाजी
webdunia

मोहम्मद शमी- मोहम्मद शमी ने पूरे टेस्ट में 8 विकेट चटकाए। पहली पारी में दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजी क्रम को ध्वस्त शमी ने ही किया। पहली पारी में उन्होंने 44 रन देकर 5 विकेट हासिल किए। अपना पांचवा विकेट लेने के साथ ही वह टेस्ट क्रिकेट में 200 विकेट लेने वाले तीसरे भारतीय गेंदबाज बन गए।

दूसरी पारी में भी उन्होंने कमाल जारी रखा। दूसरी पारी में उन्होंने 63 रन देकर 3 विकेट लिए।

जसप्रीत बुमराह- दक्षिण अफ्रीका की पहली पारी के पहले ओवर में ही कप्तान डीन एल्गर का विकेट लेने वाले जसप्रीत बुमराह मुश्किल में थे। वह फोलो थ्रू में अपनी दायीं एड़ी चोटिल कर बैठे थे। लेकिन वह वापस आए और द.अफ्रीका की पारी को समेटा। पहली पारी में बुमराह ने 16 रन देकर 2 विकेट चटकाए।

दूसरी पारी में भी उन्होंने खतरनाक लग रहे एल्गर का विकेट चटकाकर भारत के लिए जीत का रास्ता साफ किया। दूसरी पारी में बुमराह ने 50 रन देकर 3 विकेट लिए।

केएल राहुल- मैच के पहले ही दिन पहली पारी में 260 गेंदो में 16 चौके और 1 छक्के की बदौलत 123 रन बनाने वाले केएल राहुल ने टीम इंडिया की जीत की बुनियाद रखी।

मयंक अग्रवाल के साथ केएल राहुल ने शतकीय साझेदारी निभाई। उनको अपने शतक के लिए मैन ऑफ द मैच का पुरुस्कार भी मिला। उन्होंने दूसरी पारी में भी कुछ अच्छे शॉट्स लगाए थे लेकिन 23 रनों पर वह चलते बने।

भारत की पहले टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 113 रन की जीत में अपनी शतकीय पारी से प्लेयर ऑफ द मैच बने ओपनर लोकेश राहुल ने कहा किउन्होंने अपने खेल पर कड़ी मेहनत की है।

राहुल ने अपना पुरस्कार ग्रहण करने के बाद कहा,' यह सिर्फ़ धैर्य और दृढ़ संकल्प था, मैं वास्तव में अपनी टीम को अच्छी शुरुआत दिलाना चाहता था। हमने जिस तरीके से पारी की शुरुआत की वह काफ़ी अहम था। मैंने अपनी तकनीक पर थोड़ा काम किया है। जब मैं कुछ वर्षों के लिए टीम से बाहर था मैंने अपने खेल पर वास्तव में कड़ी मेहनत की है।'

उन्होंने कहा,;; मुझे लगता है कि इन सभी चीज़ों में अनुशासन का सबसे बड़ा योगदान है। विराट ने अभी उल्लेख किया है कि हमारे तेज़ गेंदबाज़ो ने न केवल आज बल्कि पिछले दो-तीन वर्षों में टीम के लिए उल्लेखनीय योगदान दिया है।'

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

जूनियर्स ने भी किया कमाल, बांग्लादेश को 103 रनों से मात देकर भारत U-19 Asia Cup के फाइनल में पहुंचा