Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

अगर सिराज होते अंतिम ग्यारह में तो न्यूजीलैंड नहीं भारत हो सकता था विश्व टेस्ट चैंपियन

हमें फॉलो करें webdunia
मंगलवार, 17 अगस्त 2021 (19:43 IST)
विराट कोहली ने कल बेहतरीन कप्तानी की। दो सत्र में इंग्लैंड की टीम को 60 ओवरों से कम के समय में आउट करने का श्रेय उनकी कप्तानी को भी जाना चाहिए। आर अश्विन की जगह इशांत शर्मा को खिलाने पर भी उन पर उंगलिया उठी। 
 
लेकिन अंत भारत के पक्ष में था तो कोहली की अभी वाहवाही हो रही है। हालांकि विराट कोहली अगर एक काम कुछ समय पहले कर लेते तो लॉर्ड्स की एतिहासिक जीत के साथ साउथ्मप्टन पर भी शायद भारत का झंडा बुलंद होता। 
 
विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के फाइनल में विराट कोहली ने मोहम्मद सिराज की जगह इशांत शर्मा को अंतिम ग्यारह में शामिल किया था। इशांत शर्मा के पास इंग्लैंड में गेंदबाजी करने का अपार अनुभव था। इस कारण सिराज की प्रतिभा को दरकिनार कर दिया गया।
 
यह जानते हुए कि ऑस्ट्रेलिया में वह भारत के सबसे सफल गेंदबाज रहे और बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी के 3 मैच में 13 विकेट झटके थे। विराट कोहली की सोच शायद यह रही होगी कि फाइनल का दबाव सिराज झेल पाएंगे या नहीं। कभी कभी युवा गेंदबाज अगर सीधे फाइनल में उतरता है तो वह दबाव नहीं झेल पाता। 
 
लेकिन इसके उल्ट भी कहानी हो सकती थी। कम से कम इन 2 टेस्ट मैचों में सिराज का प्रदर्शन देखकर तो यह ही लग रहा है। इंग्लैंड के खिलाफ अपने 2 टेस्ट मैचों में वह 11 विकेट ले चुके हैं। इसमें से 8 विकेट लॉर्ड्स टेस्ट में उन्होंने झटके हैं।
 
ऐसा भी हो सकता था कि न्यूजीलैंड पहली पारी में बढ़त लेने के बजाए 30- 40 कम रन बना पाती। या फिर अंतिम दिन सिराज केन विलियमसन और रोस टेलर में से किसी एक का विकेट लेकर मैच भारत की मुट्ठी में कर देते। 
webdunia
कल तो लॉर्ड्स में उन्होंने यह ही किया। वह भी एक नहीं दो बार। ऐसा लग रहा था कि धूप में इंग्लैंड आराम से 22 ओवर खेल जाएगी। सिराज ने गेंदबाजी अच्छी की थी लेकिन बहुत घातक वह नहीं लगे थे। 
 
लेकिन सेट अप करके उन्होंने मोइन अली को आउट किया और इसके तुरंत बाद सैम करन को पवैलियन का रास्ता दिखाया। इसके बाद बटलर और रॉबिन्सन ने मैच बचाने की जी तोड़ कोशिश की।
 
भारत की जीत के सामने खड़े जोस बटलर को भी सिराज ने अलविदा किया और अंत में जेम्स एंडरसन को बोल्ड कर भारतीय टीम को लॉर्ड्स के मैदान पर एक एतिहासिक जीत दिलायी।

यही नहीं इससे पहले पहली पारी में भी सिराज ने एक ही ओवर में लगातार 2 विकेट लिए। पहले डॉम सिबली को उन्होंने लेग साइड में खड़े केएल राहुल से कैच आउट करवाया। इसके बाद हमीद को शून्य पर बोल्ड कर दिया।(वेबदुनिया डेस्क) 

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

क्या तालिबान महिलाओं को खेलने देगा क्रिकेट? ICC कर रही है पूरी कोशिश