Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विश्व कप 2023 में खेलने की संभावना से इनकार नहीं : रॉस टेलर

webdunia
मंगलवार, 18 फ़रवरी 2020 (18:49 IST)
वेलिंगटन। न्यूजीलैंड के अनुभवी बल्लेबाज रॉस टेलर ने 2023 वनडे विश्व कप में खेलने की संभावना से इनकार नहीं करते हुए कहा कि वह टीम में जगह बनाने के काबिल हैं या नहीं, इसका फैसला अगले साल के आखिरी में तय, फिटनेस और खेलने की प्रेरणा पर आधारित होगा। 
 
35 साल का यह खिलाड़ी भारत के खिलाफ यहां 21 फरवरी से शुरू हो रहे टेस्ट मैच से इस प्रारूप का अपना 100वां मैच खेलेगा। वह तीनों प्रारूप में 100 मैच पूरा करने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बनेंगे। 
 
टेलर ने कहा, ‘मैं इससे (2023 विश्व कप में खेलने की संभावना) इनकार नहीं करूंगा लेकिन मुझे लगता है कि अभी लंबा सफर तय करना है। मैं अभी अगले साल की तरफ देख रहा हूं। इस दौरान टी20 विश्व कप और घरेलू सत्र से मुझे अपने बारे में पता चलेगा।’ 
 
उन्होंने कहा, ‘क्या मैं खुद को खेलने के लिए प्रेरित कर पाउंगा? क्या मैं अच्छा खेल पाउंगा? क्या मैं फिट रहूंगा? और क्या मैं टीम में जगह पाने का हकदार रहूंगा? अगर इन सभी सवालों का जवाब हां में मिला तो जाहिर है कि 2023 मेरे लिए एक विकल्प होगा।’ 
 
आक्रामक क्रिकेट से पहचान बनाने वाले इस खिलाड़ी ने कहा कि वह खेल को जारी रखना चाहते है लेकिन इसके लिए वह खुद पर ज्यादा दबाव नहीं डालेंगे। 
 
उन्होंने कहा, ‘आप हमेशा अच्छा करना चाहते हैं और सबसे पहले यह खेल जरूरी है। इसके साथ ही आप खुद पर अतिरिक्त दबाव नहीं डाल सकते। आपको मैदान में जाकर खेल का लुत्फ़ उठाना होता है और एक बार में एक मैच के बारे में सोचना होता है। उम्मीद है कि मैं टीम के लिए इसी तरह से योगदान देते रहूंगा।’ 
 
टेलर 100 टेस्ट खेलने के मामले में ब्रेंडन मैकुलम, डेनियल विटोरी और स्टीफन फ्लेमिंग जैसे न्यूजीलैंड के खिलाड़ियों की सूची में शामिल हो जाएंगे। उन्होंने इस मौके पर अपने मेंटोर दिवंगत मार्टिन क्रो का, प्रेरित करने के लिए शुक्रिया अदा किया। 
 
उन्होंने कहा, ‘उन्होंने (क्रो ने) मुझमें कुछ ऐसा देखा जो मैंने खुद भी महसूस नहीं किया। मैं तो एक टेस्ट खेलकर काफी खुश रहता लेकिन 100वां टेस्ट खेलना बहुत खास है। मेरे प्रेरणास्रोत क्रो ही हैं।’

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Karnataka Kambala : निशांत शेट्‍टी ने श्रीनिवास गौड़ा को भी पीछे छोड़ा