रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल मुकाबले 4 अलग-अलग स्थानों पर, सौराष्ट्र और कर्नाटक पर निगाहें

बुधवार, 19 फ़रवरी 2020 (20:25 IST)
मुंबई। रणजी ट्रॉफी क्वार्टर फाइनल गुरुवार से 4 अलग-अलग स्थानों पर शुरू हो जाएंगे जिसमें सौराष्ट्र और कर्नाटक जैसी मजबूत टीमों पर  निगाह टिकी रहेगी जो उलटफेर करने में सक्षम टीमों के खिलाफ किसी भी तरह की ढिलाई बरतने से बचने की कोशिश करेंगी। 
 
जिन 8 टीमों ने क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई है, उनमें अगर कागजों पर देखा जाए तो सौराष्ट्र और आंध्र के बीच ओंगोल में कड़ा मुकाबला होने की संभावना है। इन दोनों टीमों ने अभी तक टूर्नामेंट में अच्छा प्रदर्शन किया है। 
 
पिछले साल का उप विजेता सौराष्ट्र का पलड़ा हालांकि भारी लगता है। उसने लीग चरण में 8 मैचों में अच्छा प्रदर्शन किया तथा तीन जीत, चार ड्रॉ से अंतिम 8 में जगह बनाई। इस बीच उसे उत्तर प्रदेश के खिलाफ हार का सामना भी करना पड़ा। 
 
अनुभवी जयदेव उनादकट से टीम को फिर से काफी उम्मीदें होंगी। उन्होंने इस सत्र में अब तक 11.90 की औसत से 51 विकेट लिए हैं।  बल्लेबाजी में चेतेश्वर पुजारा की अनुपस्थिति में शेल्डन जैकसन ने जिम्मेदारी बखूबी निभाई है। उन्होंने अब तक 55 की औसत से 605 रन  बनाए हैं। 
 
आंध्र लीग चरण के आखिर में दो मैचों में हार के बावजूद नाकआउट में पहुंचा है लेकिन सत्र के पहले चरण में उसकी टीम ने शानदार फॉर्म  दिखाई थी और एक समय वह तालिका में शीर्ष पर थी। इस महत्वपूर्ण मैच में उसका दारोमदार मध्यम गति के गेंदबाज केवी शशिकांत और  बल्लेबाज रिकी भुई पर टिका रहेगा। 
 
जम्मू में मजबूत कर्नाटक का सामना जम्मू कश्मीर से होगा जो क्वार्टर फाइनल में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। कर्नाटक एलीट पूल में गुजरात और बंगाल के बाद तीसरे स्थान पर रहा था तथा उसने तमिलनाडु और मुंबई पर महत्वपूर्ण जीत दर्ज की थी। उन्होंने नाजुक मौकों पर जीत दर्ज की। इनमें आखिर के तीन में से दो मैचों की जीत भी शामिल है। 
 
कर्नाटक का सामना ग्रुप सी से शीर्ष पर रहे जम्मू कश्मीर से होगा जिसे लीग चरण में केवल हरियाणा से हार का सामना करना पड़ा था। कप्तान परवेज रसूल ने आगे बढ़कर नेतृत्व किया है। उन्होंने अब तक 44.77 की औसत से 403 रन और 14.56 की औसत से 25 विकेट लिए हैं। बल्लेबाज अब्दुल समद ने 547 रन बनाकर टीम की सफलता में अहम योगदान दिया है। 
 
कटक में बंगाल का ओडिशा पर पलड़ा भारी लगता है। राजस्थान और पंजाब पर अंतिम दो मैचों में जीत से बंगाल का मनोबल बढ़ा है। राजस्थान के खिलाफ उसने 320 रन का लक्ष्य हासिल किया जबकि पंजाब के खिलाफ पटियाला के मुश्किल विकेट पर कम स्कोर वाले मैच में जीत दर्ज की।
 
अनुभवी मनोज तिवारी पर उसकी निगाहें टिकी रहेंगी जो अच्छी फार्म में चल रहे हैं। बाएं हाथ के स्पिनर शाबाह अहमद ने भी अच्छा प्रदर्शन  किया है। वलसाड के सरदार पटेल स्टेडियम में गुजरात को भी गोवा के खिलाफ जीत का दावेदार माना जा रहा है। गुजरात ने आठ मैचों में पांच जीत और तीन ड्रॉ से क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। 
 
गोवा को अमित वर्मा (791 रन) और एस के पटेल (751 रन) से अच्छे स्कोर की उम्मीद होगी लेकिन क्वार्टर फाइनल अलग तरह का मुकाबला होगा जिसमें उसका सामना दमदार गुजरात से होगा। उन्हें रस कलारिया से जूझना होगा जिन्होंने अब तक 30 विकेट लिए हैं। ​Photo courtesy twitter

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पाकिस्‍तान सुपर लीग 2020 में टूर्नामेंट जीतने वाली टीम को 3.57 करोड़ रुपए की राशि