रोहित शर्मा का 'टोटका', जर्सी का नंबर बदला और बदल गया रनों का आंकड़ा भी

- सीमान्त सुवीर

ऑकलैंड। भारतीय टीम के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा आज सबसे ज्यादा खुश इसलिए हैं, क्योंकि दूसरे टी-20 मैच में टीम इंडिया न केवल 7 विकेट से मैच जीतने में कामयाब हुई अलबत्ता 3 मैचों की सीरीज को 1-1 की बराबरी पर लाने में भी कामयाब हुई। इस मैच में रोहित का एक 'टोटका' काम आया जिसमें उन्होंने अपनी जर्सी का नंबर क्या बदला, उनके आंकड़ों का नंबर भी बदल गया...
 
पिछले कुछ समय से टी-20 के विशेषज्ञ बल्लेबाज रोहित शर्मा के बल्ले पर ग्रहण लगा हुआ था लेकिन यह ग्रहण एक टोटके के साथ ही हट गया। ऑकलैंड में जब वे मैदान पर बल्लेबाजी करने के लिए उतरे तो 45 नंबर की जर्सी की जगह वे 59 नंबर की जर्सी में दिखाई दिए।
 
सौरव गांगुली और सहवाग भी करते थे टोटके : भारतीय टीम के पूर्व कप्तान और कोलकाता के प्रिंस कहे जाने वाले सौरव गांगुली भी जर्सी बदलने का टोटका किया करते थे। गांगुली 99 नंबर की जर्सी पहनते थे लेकिन जब उनका बल्ला फ्लॉप होता था, तब वे जर्सी बदलते और कमाल की बात तो यह होती कि रन बनने लगते थे। वीरेन्द्र सहवाग भी कभी कभी 0 नंबर की जर्सी का टोटका करते थे। चूंकि यह नियम के खिलाफ होता है लिहाजा वे 0 नंबर की जर्सी पर काला कागज चस्पा कर लिया करते थे ताकि नंबर नहीं दिखे।
 
रोहित शर्मा का 59 नंबर की जर्सी का यह एक टोटका ही था, क्योंकि टीम इंडिया को भी जीत के लिए 159 रनों का लक्ष्य मिला था। रोहित ने मैदान पर उतरते ही कत्लेआम मचा दिया। वे पॉवर गेम के बजाय 'टच' गेम खेलते हैं। उन्होंने न्यूजीलैंड के तेज आक्रमण के आगे इसी टच गेम का शानदार नमूना पेश किया। जब भी लेग साइड पर गेंद मिली, उसे छक्के की शक्ल प्रदान कर दी।
 
इसी मैच में उन्होंने टी-20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में दुनिया में सबसे ज्यादा रन (2,288) अपने नाम किए। यही नहीं, टी-20 में सबसे ज्यादा 103 छक्के लगाने वाले 3 खिलाड़ियों में भी वे शामिल हो गए हैं। ये 3 बल्लेबाज हैं- क्रिस गेल, मार्टिन गुप्टिल और रोहित शर्मा। मैच से पहले रोहित के 99 छक्के थे। उन्होंने चौथे ओवर में 100वां छक्का जड़ा। बाद में वे 2 और छक्के लगाकर 103 छक्के लगाने वाले 3 बल्लेबाजों की गिनती में आ गए।
 
क्रिकेट में इससे पहले भी कई धुरंधर बल्लेबाजों और गेंदबाजों ने टोटके किए हैं। रोहित का 45 नंबर की जर्सी बदलकर 59 नंबर की जर्सी पहनना भी इसी टोटके में शुमार था। रोहित ने पहले ही ओवर से 'फायर' करना शुरू कर दिया था जिसका असर यह हुआ कि पहले पॉवर-प्ले में टीम इंडिया ने 53 रन बना डाले। रोहित ने 178 के स्ट्राइक रेट से 28 गेंदों में 50 रन बना डाले जिसमें 4 छक्के शामिल थे।
 
देखा जाए तो रोहित मैच विनर हैं और वे जब भी अर्द्धश‍तक ठोंकते हैं, टीम इंडिया जीत का परचम लहराकर ही बाहर आती है। रोहित को 50 रनों के स्कोर पर ईश सोढ़ी की गेंद पर टिम साउदी ने लपका। उनके बल्ले से 4 छक्के उड़े तो 3 बार गेंद ने सीमा रेखा भी पार की।
 
रोहित और शिखर धवन की सलामी जोड़ी ने 9.2 ओवरों में पहले विकेट की भागीदारी में 79 रन जोड़कर आने वाले बल्लेबाजों पर से दबाव हटा दिया। यही कारण है कि भारत ने जीत का लक्ष्य 7 गेंदें शेष रहते 3 विकेट खोकर हासिल कर लिया। न्यूजीलैंड की जमीं पर टी20 में भारत की यह पहली जीत है।
 
भारत को तीसरा और निर्णायक टी-20 मैच 10 फरवरी को हैमिल्टन में खेलना है, जो ऑकलैंड से केवल सवा घंटे की ड्राइव पर स्थित है। उम्मीद की जानी चाहिए कि हैमिल्टन में रोहित का 'टोटका' अपना असर दिखाए और टीम इंडिया टी-20 के कप के साथ स्वदेश लौटे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख हरमनप्रीत ने स्वीकारा, टी 20 में हार से निराश नहीं और हमने सीखे सबक