Team India के सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा करियर की बेस्ट टेस्ट रैंकिंग पर पहुंचे

सोमवार, 7 अक्टूबर 2019 (19:19 IST)
दुबई। सलामी बल्लेबाज के तौर पर अपने पहले टेस्ट की दोनों पारियों में शतक जड़ने वाला पहला क्रिकेटर बनने वाले भारतीय बल्लेबाज रोहित शर्मा सोमवार को आईसीसी टेस्ट खिलाड़ी रैंकिंग में करियर के सर्वश्रेष्ठ 17वें स्थान पर पहुंच गए। 
 
रोहित के नाम अब 28 टेस्ट में 5 शतक हैं, उन्होंने विशाखापत्तनम में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ पहले टेस्ट में 176 और 127 रन की पारियों से 36 पायदान की छलांग लगाई। इस मैच में भारत ने 203 रन से जीत हासिल कर 3 मैचों की श्रृंखला में 1-0 से बढ़त बना ली। 
 
अन्य सलामी बल्लेबाज मयंक अग्रवाल को पहली पारी में दोहरा शतक जड़ने के बाद 38 पायदान का फायदा हुआ जिससे वह करियर की सर्वश्रेष्ठ 25वीं रैंकिंग पर पहुंच गए। 
कप्तान विराट कोहली ने अपना दूसरा स्थान बरकरार रखा है, हालांकि वह जनवरी 2018 के बाद पहली बार 900 अंक से नीचे खिसके गए। उनके अब 899 अंक हैं और वह ऑस्ट्रेलिया के शीर्ष रैंकिंग पर काबिज स्टीव स्मिथ से 38 अंक पीछे हैं। 
 
गेंदबाजों में ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने मैच में 8 विकेट चटकाने के बाद शीर्ष 10 में वापसी की। उन्होंने पहली पारी में 145 रन देकर 7 विकेट झटके थे। पहले शीर्ष स्थान पर रह चुके अश्विन ने 14वें स्थान से 4 पायदान की छलांग लगाई और वह आल राउंडर सूची में भी शीर्ष 5 में पहुंच गए।
 
तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी करियर के सर्वश्रेष्ठ 710 अंक से 18वें से 16वें स्थान पर पहुंच गए तथा वह अपने करियर के सर्वश्रेष्ठ 14वें स्थान से 2 स्थान पीछे हैं। वहीं रविंद्र जडेजा बांग्लादेश के शाकिब अल हसन को पछाड़कर ऑल राउंडर में दूसरा स्थान हासिल करने में सफल रहे। 
 
भारत को विशाखापत्तनम में जीत से आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप तालिका में 40 अंक का फायदा मिला और अब उसके 160 अंक हैं। उसने वेस्टइंडीज में श्रृंखला में 2-0 से जीतने के बाद पूरे 120 अंक हासिल किए थे। 
न्यूजीलैंड और श्रीलंका के श्रृंखला 1-1 से ड्रॉ कराने के बाद 60-60 अंक हैं जबकि ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के 5 मैचों की श्रृंखला में 2-2 से ड्रॉ के बाद 56-56 अंक हैं। 
 
दक्षिण अफ्रीका के लिए शतकवीर क्विंटन डि कॉक और डीन एल्गर को फायदा मिला है। डिकॉक 4 पायदान के फायदे से 7वें स्थान पर पहुंचने से शीर्ष 10 में शामिल हो गए जबकि एल्गर को 5 पायदान का फायदा हुआ जिससे वह 14वें स्थान पर पहुंच गए।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख मंजू रानी विश्व महिला मुक्केबाजी चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में