Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले धवन का फॉर्म में लौटना महत्वपूर्ण : रोहित

webdunia
सोमवार, 12 नवंबर 2018 (15:33 IST)
चेन्नई। भारत के कार्यवाहक कप्तान रोहित शर्मा ने कहा है कि ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले शिखर धवन का फॉर्म में लौटना काफी महत्वपूर्ण था। विंडीज के खिलाफ पूरी एकदिवसीय अंतरराष्ट्रीय श्रृंखला के दौरान संघर्ष करने वाले धवन ने रविवार को यहां तीसरे और अंतिम टी-20 अंतरराष्ट्रीय मैच में 62 गेंदों में 92 रनों की पारी खेली जिससे भारत ने मेहमान टीम को 6 विकेट से हराकर 3-0 से क्लीनस्वीप किया।


धवन और युवा ऋषभ पंत (25 गेंदों में 53 रन) ने तीसरे विकेट के लिए 80 गेंदों में 130 रन जोड़े जिससे भारत 182 रनों के लक्ष्य को हासिल करने में सफल रहा। रोहित ने मैच के बाद कहा कि टीम के नजरिए और खिलाड़ियों के लिए यह महत्वपूर्ण था कि ऑस्ट्रेलिया दौरे से पहले वह रन बनाए। शिखर विशेषकर एकदिवसीय श्रृंखला में अच्छी बल्लेबाजी कर रहा था लेकिन वह बड़े स्कोर नहीं बना पा रहा था। मुझे खुशी है कि वह मैच जिताने वाली पारी खेल पाया और महत्वपूर्ण दौरे से पहले फॉर्म हासिल कर पाया।

उन्होंने कहा कि ऋषभ भी क्रीज पर उतरकर रन बनाने का भूखा है। यह उसके लिए शानदार मौका था। हमने पहले 6 ओवरों के भीतर 2 विकेट गंवा दिए थे। थोड़ा दबाव भी था। वे इससे अच्छी तरह निपटे और यह मैच जिताने वाली साझेदारी थी। टीम के नजरिए से यह महत्वपूर्ण है कि इन दोनों खिलाड़ियों ने रन बनाए।

भारत के ऑस्ट्रेलिया दौरे की शुरुआत ब्रिसबेन में 21 नवंबर को 3 मैचों की टी-20 श्रृंखला के साथ होगी। रोहित ने कहा कि ऑस्ट्रेलिया का आगामी दौरा पूरी तरह से अलग होगा और भारत को 3-0 की जीत से आत्मविश्वास लेना चाहिए।

रोहित ने कहा कि वहां जाकर प्रदर्शन करना हमेशा से चुनौतीपूर्ण होता है। आप जब भी वहां जाते हैं तो एक खिलाड़ी, व्यक्ति और टीम के रूप में आपकी परीक्षा होती है। ऑस्ट्रेलिया में खेल अलग तरह का होगा। मौजूदा श्रृंखला में भारत ने तैयारी के नजरिए से काफी चीजें अच्छी कीं जिसमें क्षेत्ररक्षण भी शामिल हैं।

ऑस्ट्रेलिया दौरे के लिए भारत की टेस्ट टीम में रोहित को भी जगह मिली है लेकिन सीमित ओवरों के इस सलामी बल्लेबाज ने कहा कि वे इतना आगे के बारे में नहीं सोच रहे। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि इससे पहले काफी समय है।

पहले टेस्ट मैच से पूर्व हमें टी-20 अंतरराष्ट्रीय और अभ्यास मैच खेलने हैं। मैं टेस्ट मैचों के बारे में नहीं सोच रहा। मैं ऐसा व्यक्ति हूं, जो काफी आगे के बारे में नहीं सोचता। मैं सिर्फ वापस जाकर कुछ दिनों के ब्रेक और उसके बाद ऑस्ट्रेलिया जाने और टी-20 श्रृंखला की तैयारी के बारे में सोच रहा हूं।

रोहित ने टीम के नए खिलाड़ी कृणाल पंड्या की तारीफ की और कहा कि उसकी तरह के निडर क्रिकेटर से भारत को फायदा होगा। टी-20 श्रृंखला के दौरान दिग्गज विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी की गैरमौजूदगी पर रोहित ने कहा कि धोनी श्रीलंका में निदाहस ट्रॉफी में भी नहीं खेले थे तथा धोनी का टीम में नहीं होना खलता है। उनकी मौजूदगी से ही सिर्फ मुझे ही नहीं बल्कि काफी खिलाड़ियों का आत्मविश्वास बढ़ता है, विशेषकर युवा खिलाड़ियों का। (भाषा)

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

फेडरर एटीपी फाइनल्स के पहले मैच में निशिकोरी के खिलाफ हारे