Webdunia - Bharat's app for daily news and videos

Install App

Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

Record Alert: पंजाब में जन्मे आयरिश खिलाड़ी ने बनाया वर्ल्ड रिकॉर्ड, वनडे में पहली बार हुआ ऐसा

हमें फॉलो करें webdunia
webdunia

अखिल गुप्ता

शनिवार, 17 जुलाई 2021 (14:57 IST)
दक्षिण अफ्रीका ने भले ही अंतिम एकदिवसीय में आयरलैंड को 70 रनों से हरा दिया हो लेकिन इस हार के बाद भी आयरलैंड के खिलाड़ी सिमी सिंह सभी का दिल जीतने में कामयाब रहे। सिमी वनडे में नंबर-8 पर शतक लगाने वाले दुनिया के पहले खिलाड़ी बने। डबलिंग एकदिवसीय में सिमी सिंह ने आठवें क्रम पर बल्लेबाजी करते हुए 91 गेंदों पर नाबाद 100 रन बनाए।

लगभग 110 के स्ट्राइक रेट के साथ खेली गई अपनी इस पारी में सिमी ने 14 चौके भी जमाए। 34 वर्षीय दाएं हाथ के खिलाड़ी का अंतरराष्ट्रीय स्तर पर भी यह पहला शतक रहा।

92/6 था टीम का स्कोर जब मिला बल्लेबाजी का मौका

मैच में साउथ अफ्रीका ने आयरलैंड के सामने 347 रनों का विशाल लक्ष्य रखा था और एक समय आयरलैंड का स्कोर 6 विकेट के नुकसान पर 92 रन था। मगर इसके बाद सिमी सिंह ने मैदान पर आने के साथ ही बड़े-बड़े शॉट्स खेलना शुरू कर दिया। शानदार बल्लेबाजी का नमूना पेश करते हुए सिमी ने ऐतिहासिक शतकीय पारी खेल डाली।

मैच में अन्य कोई आयरिश खिलाड़ी सिमी का साथ देने में नाकाम रहा और मेजबान टीम को 70 रनों से मिली हार का सामना करना पड़ा। इस हार के साथ ही दक्षिण अफ्रीका 2-1 से वनडे सीरीज जीतने में कामयाब हुई।

इस रिकॉर्ड को छोड़ा पीछे

 
सिमी सिंह से पहले एकदिवसीय फॉर्मेट में नंबर-8 पर सबसे बड़ी पारी खेलने का रिकॉर्ड केन्या के थॉमस ओडोयो के नाम पर दर्ज था। ओडोयो ने साल 2006 में बांग्लादेश के खिलाफ 84 रनों की पारी खेली थी। मगर सिमी ने उनके रिकॉर्ड को पीछे छोड़ते हुए अब अपना नाम इतिहास के पन्नों में दर्ज करवा लिया है।

वनडे में नंबर-8 या उससे नीचे बल्लेबाजी करते हुए सबसे स्कोर बनाने वाले खिलाड़ी

खिलाड़ी रन बनाम साल
सिमी सिंह (IRE) 100* साउथ अफ्रीका 2021
क्रिस वोक्स (ENG) 95* श्रीलंका 2016
सैम करन (ENG) 92* भारत 2021
आंद्रे रसल (WI) 92* भारत 2011
नाथन कूल्टर नाइल (AUS) 92 वेस्टइंडीज 2019
 
पंजाब में हुआ है सिमी का जन्म

34 वर्षीय सिमी सिंह का जन्म पंजाब में हुआ है और उन्होंने पंजाब के लिए अंडर-14, अंडर-17 और अंडर-19 क्रिकेट खेला, लेकिन वह लगातार पंजाब की टीम में जगह बनाने में असफल रहे। पंजाब की टीम से बाहर होने के बाद सिमी ने भारत के लिए खेलना का सपना छोड़कर आयरलैंड के लिए अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलना शुरू किया। वैसे सिमी सिंह पढाई के लिए आयरलैंड गए थे लेकिन वहां जाकर वो एक बार फिर से क्रिकेट खेलने लगे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

सुपरमैन बने फैबियन एलन ने एक हाथ से लपका करिश्माई कैच (वीडियो)