भारत पांचवीं बार U-19 World Cup जीतने से चूका, बांग्लादेश ने 3 विकेट से हराया

वेबदुनिया न्यूज डेस्क

रविवार, 9 फ़रवरी 2020 (22:11 IST)
पोचेफ्स्ट्रूम। बांग्लादेश ने भारत को अंडर-19 का विश्व कप फाइनल (U-19 World Cup final) में डकवर्थ-लुईस नियम के तहत 3 विकेट से हरा दिया। बारिश के कारण जब खेल रोका गया, तब बांग्लादेश ने 41 ओवर में 7 विकेट खोकर 163 रन बना लिए थे। बारिश के कारण उसे 170 रन का लक्ष्य मिला, जिसे उसने अर्जित कर लिया। भारत पांचवीं बार वर्ल्ड कप जीतने में नाकाम रहा, ज‍बकि बांग्लादेश पहली बार चैम्पियन बना।

भारत ने 47.2 ओवर में 177 रन बनाए थे, जिसमें यशस्वी जायसवाल के 88 रन शामिल थे। बांग्लादेश ने 42.1 ओवर में 7 विकेट खोकर 171 रन बना डाले। कप्तान अकबर अली ने 47 रनों की नाबाद पारी खेली और टीम को जीत दिलाई। मैच के हाईलाइट्‍स...

33 अतिरिक्त रनों के कारण भारत हारा : इस मैच का फैसला अतिरिक्त रनों के कारण बांग्लादेश के पक्ष में गया। भारतीय गेंदबाजों ने मैच में 33 अतिरिक्त रन लुटाए जबकि बांग्लादेश के गेंदबाजों ने सिर्फ 11 अतिरिक्त रन ही दिए।

बांग्लादेश का ताजा स्कोर : 41 ओवर में बांग्लादेश ने 7 विकेट खोकर 163 रन बना लिए हैं। कप्तान अकबर अली 42 और रकीबुल हसन 3 रन पर क्रीज में हैं। बांग्लादेश को 54 गेंदों में जीत के लिए सिर्फ 15 रनों की दरकार है।
 
यशस्वी ने दिलाया ब्रेक थ्रू : यशस्वी यादव ने 32वें ओवर में भारत को ब्रेक थ्रू दिलाकर मैच में वापस लौटाया। उन्होंने परवेज हुसैन (47) को पैवलियन भेजकर बांग्लादेश का सातवां विकेट झटका। अकबर और परवेज के बीच सातवें विकेट के लिए 41 रन जोड़े गए। 
 
बांग्लादेश का छठा विकेट गिरा : सुशांत मिश्रा ने मैच का दूसरा विकेट अविषेक दास (5) को कार्तिक त्यागी के हाथों कैच करवाकर लिया। तब बांग्लादेश 23 ओवर में 120 रन बना चुका था।  
 
बांग्लादेश का पांचवां विकेट आउट : सुशांत मिश्रा ने बांग्लादेश को पांचवां झटका दिया। सुशांत मिश्रा की गेंद पर शमीम हुसैन (7) का खूबसूरत कैच यशस्वी यादव ने लपका। बांग्लादेश ने पांचवां विकेट 85 रन पर गंवाया। 
 
बांग्लादेश का चौथा विकेट गिरा : बांग्लादेश ने 65 रन के कुल स्कोर पर चौथा विकेट गंवाया। रवि बिश्नोई की गेंद पर विकेटकीपर ज्यूरल ने शहादत हुसैन (1) को स्टंप आउट किया। मैच में अब तक गिरे चारों ही विकेट बिश्नोई की झोली में गए हैं। 
 
रवि बिश्नोई का तीसरा विकेट : भारत के मध्यम तेज गेंदबाज रवि बिश्नोई ने मैच में तीसरा विकेट हासिल किया। उन्होंने बांग्लादेश के तौहीद को खाता खोलने के पहले ही पैवेलियन भेज दिया। बांग्लादेश 62 रन पर 3 विकेट खो चुका है। 
बांग्लादेश ने दूसरा विकेट खोया : 178 रनों के लक्ष्य का पीछा कर रही बांग्लादेश की टीम ने दूसरा विकेट महमूदुल हसन जॉय का गंवायास 8 रन बनाने वाले जॉय के डंड रवि गोस्वामी ने बिखेरे। 
 
बांग्लादेश का पहला विकेट गिरा : रवि गोस्वामी ने तंजिद हसन को 17 रनों के निजी स्कोर पर कार्तिक त्यागी के हाथों कैच करवाकर बांग्लादेश को पहला झटका दिया। तब स्कोर 8.5 ओवर में 50 रन था।
 
40 ओवर तक यशस्वी ने किला लड़ाया : इससे पहले विश्व कप फाइनल मैच में बांग्लादेश की गेंदबाजी और क्षेत्ररक्षण जबरदस्त रहा। यही कारण है कि यशस्वी यादव के अलावा अन्य भारतीय बल्लेबाज खुलकर नहीं खेल सके। सलामी बल्लेबाज यशस्वी ने 40 ओवर तक बहादुरी के साथ मोर्चा संभाला। 
 
बांग्लादेश के गेंदबाज शरीफुल इस्लामने 40वें ओवर में भारत को सबसे बड़ा झटका दिया। ओवर की पांचवीं गेंद पर यशस्वी तनजीम हसन साकिब को कैच थमा बैठे। उन्होंने 121 गेंदों का सामना किया अपनी शानदार पारी में 8 चौकों के अलावा 1 छक्का उड़ाया। भारत का अन्य कोई बल्लेबाज बड़ी पारी खेलने में सफल नहीं हो सका।

यशस्वी 156 रनों के कुल स्कोर पर चौथे बल्लेबाज के रूप में आउट हुए। उनके आउट होने के बाद शेष 6 बल्लेबाज कुल 21 रन ही जोड़ सके। भारत के लिए तिलक वर्मा ने 38 और विकेटकीपर डीसी ज्यूरल ने 22 रनों का योगदान दिया। 8 बल्लेबाज तो दोहरी संख्या तक भी नहीं पहुंच सके।
 
बांग्लादेश की तरफ से अविषेक दास सबसे सफल गेंदबाज रहे। उन्होंने 9 ओवर में 40 रन देकर 3 विकेट लिए। शरीफुल इस्लाम और तनजीम हसन साकिब ने 2-2 विकेट आपस में बांटे।

भारतीय टीम ने अंतिम एकादश में कोई बदलाव नहीं किया है जबकि बांग्लादेश ने हसन मुराद की जगह अविषेक दास को शामिल किया है।
 
भारतीय टीम लगातार तीसरी बार इस टूर्नामेंट के फाइनल में पहुंची है, वहीं बांग्लादेश के पास पहली बार इस खिताब को जीतने का मौका है। सेमीफाइनल में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 10 विकेट से हराने वाली भारतीय टीम 2000 के बाद सातवां फाइनल खेलेगी।
 
इस टूर्नामेंट ने यशस्वी जायसवाल, स्पिनर रवि बिश्नोई और तेज गेंदबाज कार्तिक त्यागी को स्टार बना दिया है। फाइनल का नतीजा चाहे जो भी निकले, भारत ने अंडर-19 स्तर पर अपना दबदबा स्थापित कर दिया है।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख Tri Women's T20 Series : ऑस्ट्रेलिया की जीत से भारत फाइनल में, इंग्लैंड बाहर