Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

INDvsSA 2ndT-20: मौजूदा युवा खिलाड़ियों को भी सीमित मौकों में खुद को साबित करना होगा : कोहली

webdunia
मंगलवार, 17 सितम्बर 2019 (19:15 IST)
टीम इंडिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच खेली जा रही 3 टी-20 मैचों की सीरीज का पहला मैच बारिश की भेंट चढ़ने के बाद भारतीय टीम दूसरे टी-20 मुकाबले में जीत के इरादे के साथ मैदान में उतरेगी। इस समय भारतीय खेमे में विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत चार्चा के विषय बेन हुए है। पिछले कुछ मैचों में पंत के अपने खेल प्रदर्शन में कुछ खास नहीं किया है जिसके चलते अब दूसरे टी-20 मैच में उनसे बेहतर प्रदर्शन की उम्मीदे लगाई जा रही है। 
 
टी-20 विश्व कप के लिए विराट कोहली की योजना : 2020 में होने वाले टी-20 विश्व कप में अब भी बहुत समय बाकी है लेकिन कप्तान कोहली पहले से ही अपनी योजना बना चुके हैं और उन्होंने यह भी कह दिया है कि उन्हें टीम में शामिल खिलाड़ियों से क्या उम्मीदें हैं। भारतीय कप्तान विराट कोहली कहते है कि जब वह अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच खेलने के लिए मैदान में उतरे थे तो उन्होंने अधिक मौके नहीं मिले थे और उनका मानना है कि मौजूदा समय में भी युवा खिलाड़ियों को सीमित मौकों में खुद को साबित करना होगा।
webdunia
विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धौनी की वापसी : विराट कोहली ने इन खिलाड़ियों के साथ 21 वर्षीय ऋषभ पंत को भी शामिल किया हैं। 2017 में पदार्पण करने वाले पंत में अभी अनुभव की कमी हैं। धर्मशाला में होने वाला सीरीज का पहला बारिश की भेट चढ़ने के बाद भी पंत पर सभी की नजरे थी। टीम प्रबंधन का कहना है कि विकेटकीपर बल्लेबाज पतं अपनी गलतियों को लगातार नहीं दोहरा सकते और अगर ऐसा होता है तो उसका खामियाजा उन्हें भुगतना होगा। भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने अभी भी पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी की वापसी का विकल्प खुला रखा है और इस स्थिति में पंत पर बड़ी जिम्मेदारी है कि वह दूसरे टी-20 मुकाबले में बेहतर प्रदर्शन करें। 
webdunia
राहुल चाहर और वाशिंगटन सुंदर पर भी चयनकर्ताओं की नजरें : राहुल चाहर और वाशिंगटन सुंदर इन दोनों को लगातार दूसरी सीरीज में कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल के स्थान पर टीम में शामिल किया गया है। विश्व कप से पहले भारतीय टीम को लग भग 20 से कुछ अधिक मैच खेलने हैं और ऐसे में टीम चाहती है कि उसकी बल्लेबाजी मजबूत हो। इसके लिए 8वें, 9वें और 10वें नंबर के बल्लेबाजों को नियमित तौर पर अधिक रन बनाने होंगे जो कभी भारत का मजबूत पक्ष नहीं रहा। लंबे बल्लेबाजी क्रम का क्या विकेट चटकाने की भारत की क्षमता पर असर पड़ेगा इसका जवाब भी हमें आने वाले समय में ही मिलेगा।
टीमें इस प्रकार हैं

भारतीय टीम : विराट कोहली (कप्तान), रोहित शर्मा, शिखर धवन, लोकेश राहुल, श्रेयस अय्यर, मनीष पांडे, ऋषभ पंत, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, कृणाल पांड्या, वाशिंगटन सुंदर, राहुल चाहर, खलील अहमद, दीपक चाहर और नवदीप सैनी। 
 
दक्षिण अफ्रीका : क्विंटन डिकाक (कप्तान), रेसी वान डेर दुसेन, तेंबा बावुमा, जूनियर डाला, ब्योर्न फोर्टिन, ब्युरेन हेंड्रिक्स, रीजा हेंड्रिक्स, डेविड मिलर, एनरिच नोर्तजे, एंडिले फेहलुकवायो, ड्वेन प्रिटोरियस, कागिसो रबाडा, तबरेज शम्सी और जार्ज लिंडे।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने धोनी के भविष्य पर दिया बड़ा बयान