Select Your Language

Notifications

webdunia
webdunia
webdunia
webdunia
Advertiesment

विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में शुरुआती सफलता हासिल करना चाहेगा भारत

webdunia
सोमवार, 30 सितम्बर 2019 (23:45 IST)
दुबई। भारत विश्व टेस्ट चैंपियनशिप में शुरू में मजबूत स्थिति में पहुंचने के लिए दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ 2 अक्टूबर से शुरू होने वाली 3 टेस्ट मैचों की श्रृंखला में कोई कसर नहीं नहीं छोड़ेगा जबकि मेहमान टीम इस प्रतियोगिता में अपने अभियान की शुरुआत करेगी।
 
विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम ने वेस्टइंडीज के खिलाफ 2-0 से बढ़त हासिल की थी जिससे उसे श्रृंखला से पूरे 120 अंक मिले। अब तक विश्व टेस्ट चैंपियनशिप के तहत जो 3 श्रृंखलाएं खेली गई हैं, उनमें केवल भारत ही ऐसा कर पाया है।
 
श्रीलंका और न्यूजीलैंड ने 2 मैचों की श्रृंखला 1-1 से बराबर कराई थी और उनमें से प्रत्येक के 60 अंक हैं जबकि इंग्लैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच 5 मैचों की एशेज श्रृंखला 2-2 से बराबर छूटी थी ओर उनमें से प्रत्येक के 56 अंक हैं। टेस्ट क्रिकेट में नई जान फूंकने के लिए पिछले महीने इस चैंपियनशिप की शुरुआत की गई थी।
भारत और दक्षिण अफ्रीका के बीच विशाखापट्टनम, पुणे और रांची में होने वाले टेस्ट मैचों में से प्रत्येक में 40 अंक दांव पर लगे होंगे। इस चैंपियनशिप के तहत श्रृंखला के मैचों के आधार पर प्रत्येक टेस्ट के लिए अंक तय किए जाते हैं, जैसे 2 टेस्ट मैचों की श्रृंखला में 1 टेस्ट के लिए 60 अंक जबकि 5 मैचों की श्रृंखला में 1 टेस्ट के लिए 24 अंक मिलते हैं।
 
भारत अगर तीनों टेस्ट मैच जीतने में सफल रहता तो उसके अंकों की संख्या 240 हो जाएगी। दूसरी तरफ दक्षिण अफ्रीका अगर तीनों मैच जीतता है तो उसके भारत के समान 120 अंक हो जाएंगे। लीग चरण के आखिर में शीर्ष पर रहने वाली 2 टीमों के बीच जून 2021 में यूनाइटेड किंगडम में फाइनल खेला जाएगा जिसके विजेता को विश्व टेस्ट चैंपियन का खिताब मिलेगा।

Share this Story:

Follow Webdunia Hindi

अगला लेख

Pro Kabbadi League : यूपी योद्धा प्लेऑफ से एक जीत की दूरी पर