बिलासपुर लोकसभा क्षेत्र

छत्तीसगढ़ का बिलासपुर शहर खनिज उत्‍पादन के लिए देशभर में प्रसिद्ध है। यह शहर सुगंधित दूबराज चावल की किस्म के लिए भी प्रसिद्ध है। कहा जाता है कि सत्रहवीं शताब्दी की एक मत्स्य-महिला 'बिलासा' के नाम पर इस शहर का नाम बिलासपुर पड़ा। यह शहर देशभर में कोसे की साड़ियों के लिए भी विख्यात है।

जनसंख्‍या : साल 2011 की जनगणना के अनुसार यहां की कुल जनसंख्या 26 लाख 63 हजार 629 है। जिसमें 13 लाख 51 हजार 574 पुरुष और 13 लाख 12 हजार 55 महिलाएं हैं।

अर्थव्यवस्था : यह शहर संपूर्ण देश में कोयला और खनिज उत्पादन के लिए प्रसिद्ध है। देश में ऊर्जा के क्षेत्र में इसका महत्‍वपूर्ण स्‍थान है। साथ ही इस शहर के आसपास कई औद्योगिक क्षेत्र हैं। इसके अलावा कृषि व्‍यवसाय भी यहां आजीविका का एक साधन है।

मतदाताओं की संख्‍या : लोकसभा चुनाव 2014 के मुताबिक यहां मतदाताओं की कुल संख्‍या 17 लाख 27 हजार 325 है, जिसमें 8 लाख 89 हजार 222 पुरुष और 8 लाख 38 हजार 103 महिलाएं हैं।

भौगोलिक स्थिति : यह शहर देश के मध्य में अरपा नदी के पश्चिम में स्थित है। समुद्री तल से इसकी औसत ऊंचाई 264 मीटर यानी 866 फुट है। इस शहर के उत्तर में कोरिया तथा शहडोल जिला, पश्चिम में मुंगेली, दक्षिण में बलोदा बाजार भाटापारा तथा पूर्व में कोरबा एवं जांजगीर-चांपा जिले स्थित हैं।

16वीं लोकसभा में स्थिति : भाजपा के लखन लाल साहू यहां से सांसद हैं। उन्‍होंने लोकसभा चुनाव 2014 में पूर्व प्रधानमंत्री स्‍व. अटल बिहारी वाजपेयी की भतीजी, कांग्रेस की उम्‍मीदवार करुणा शुक्ला को हराकर यह सीट हासिल की थी।

वेबदुनिया पर पढ़ें

सम्बंधित जानकारी

विज्ञापन
जीवनसंगी की तलाश है? तो आज ही भारत मैट्रिमोनी पर रजिस्टर करें- निःशुल्क रजिस्ट्रेशन!

अगला लेख रायपुर लोकसभा क्षेत्र