जयपुर लोकसभा सीट परिचय

लोकसभा चुनावों में राजस्थान के मिशन 25 को फतह करने के लिए कांग्रेस ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। भाजपा का गढ़ माने जाने वाली जयपुर शहर सीट पर लोकसभा चुनाव 2014 में भाजपा के रामचरण बोहरा ने कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व सांसद डॉ. महेश जोशी को 5 लाख से भी अधिक मतों से परा‍जित किया था।

परिचय : दुनियाभर में गुलाबी नगरी के नाम से प्रसिद्ध जयपुर की स्‍थापना राजपूत राजा सवाई जयसिंह द्वितीय ने की थी। इतिहास के अनुसार यह देश का पहला ऐसा शहर है, जो योजनाबद्ध तरीके से बसाया गया। यहां बनीं इमारतों और राजमहलों का सुंदर वास्तुशिल्प देखते ही बनता है। जयपुर को भारत का पेरिस भी कहा जाता है। यह शहर चारों ओर से दीवारों से घिरा है। 
 
जनसंख्‍या : साल 2011 की जनगणना के अनुसार जयपुर की जनसंख्या 30 लाख 73 हजार 350 है। हालांकि एक अनुमान के मुताबिक यहां की जनसंख्‍या 50 लाख से ज्‍यादा है। यह भारत का दसवां सबसे अधिक जनसंख्या वाला शहर है। 
 
अर्थव्यवस्था : जयपुर की अर्थव्‍यवस्‍था मुख्य रूप से पर्यटन, कृषि कार्यों एवं पशुपालन पर निर्भर है। यहां वस्त्र, वनस्पति तेल, ऊन, खनिज व रसायन पर आधारित प्रमुख उद्योग हैं। वहीं दूसरी ओर हस्तशिल्पों से काफी विदेशी मुद्रा प्राप्त होती है।

मतदाताओं की संख्‍या : लोकसभा चुनाव 2014 के मुताबिक यहां मतदाताओं की कुल संख्‍या 19 लाख 57 हजार 818 है, जिसमें 7 लाख 16 हजार 874 पुरुष और 5 लाख 79 हजार 932 महिलाएं हैं। 
 
भौगोलिक स्थिति : जयपुर शहर करीब छह भागों में बंटा हुआ है और यह 111 फुट यानी 34 मीटर चौड़ी सड़कों से विभाजित है। पांच भाग मध्य प्रासाद भाग को पूर्वी, दक्षिणी एवं पश्चिमी ओर से घेरे हुए हैं और छठा भाग एकदम पूर्व में स्थित है। 
 
16वीं लोकसभा में स्थिति : वर्तमान में जयपुर लोकसभा सीट से भाजपा के रामचरण बोहरा सांसद हैं। बोहरा ने साल 2014 के चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी और पूर्व सांसद डॉ. महेश जोशी को 5 लाख से भी अधिक मतों से परा‍जित किया था। भाजपा के स्व. गिरधारीलाल भार्गव (1989 से 2004) सर्वाधिक समय तक सांसद रहे।

वेबदुनिया पर पढ़ें

अगला लेख पाकिस्तान का हाफिज सईद को बड़ा झटका, जमात-उद-दावा, FIF की संपत्ति जब्त